Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

विधायक बनने की लालच में पूर्व वार्ड पार्षद बना लुटेरा, पुलिस ने किया गिरफ्तार

आगामी विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारियों में लगे पूर्व वार्ड पार्षद को पैसे जुटाने के लिए डकैती का रास्ता अपनाना पड़ा। पुलिस ने छापेमारी करते हुए आरोपी को उसके गैंग के साथ गिरफ्तार कर लिया है।

विधायक बनने की लालच में पूर्व वार्ड पार्षद बना लुटेरा, पुलिस ने किया गिरफ्तारपूर्व वार्ड पार्षद बना लुटेरा

राजनीति में महत्वाकांक्षाओं को पालना कोई नई या बुरी बात नहीं है। लेकिन राजनीतिक महत्वाकांक्षा के कारण एक पूर्व वार्ड पार्षद लुटेरा बन गया। राजनीति में आगे बढ़ने के लिए धन जमा करने की चाहत में इस पूर्व पार्षद को डकैती तक करनी पड़ी और जब वह गिरफ्तार हुआ तो सारी कलई खुल गई।

दरअसल, पिछले महीने 24 अक्टूबर को एक घर में डकैतों की ओर से हथियार के धमकी पर जेवरात एवं नगद सहित अन्य सामानों को लूट लिया गया था। इस मामले की जांच में पुलिस को जानकारी मिली कि मंटू केवट, जो पूर्व में वार्ड पार्षद रहा है। वह आगामी विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए डकैती करवा कर पैसा इकठ्ठे कर रहा था। इसके लिए उसने कई अन्य जिलों से अपराध करने के लिए अपराधियों को रखा था।

लूट के बाद नालंदा एसपी निलेश कुमार ने डीएसपी इमरान परवेज के नेतृत्व में टीम गठित कर इस वारदात का खुलासा किया है। डीएसपी इमरान परवेज ने बताया कि इस कांड में सबसे बड़ी बात यह है कि आगामी विधानसभा चुनाव में विधायक पद के लिए चुनाव लड़ने के मकसद से एक स्थानीय व्यक्ति द्वारा रुपए की व्यवस्था करने के लिए भाड़े पर डकैतों की टीम बुलाकर डकैती जैसी घटनाओं को अंजाम दिया गया और घटनास्थल पर खुद मौजुद रहकर डकैतों को भी दिशा निर्देश देता रहा।

इस वारदात में कुल 10 लोग शामिल थे। डकैतों के पास से 42 हज़ार नगद, पारिवारिक दस्तावेज, महत्वपूर्ण कागजात और 50 रुपये के कई फटे नोट बरामद किए गए। वारदात का खुलासा के बाद पुलिस पूर्व वार्ड पार्षद को गिरफ्तार कर लिया है। इसके अलावा अन्य डकैतों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी है।

Next Story
Share it
Top