Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ज्योतिषी के कहने पर तेज प्रताप ने बदला अपना रास्ता, नर्क हो गई इनकी जिंदगी

जिस रास्ते से तेज प्रताप आते-जाते हैं वहां पर 200 मीटर में झुग्गियां फैली हुई हैं।

ज्योतिषी के कहने पर तेज प्रताप ने बदला अपना रास्ता, नर्क हो गई इनकी जिंदगी

बिहार के स्वास्थ्य मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव इन दिनों के एक बाबा के कहने पर अपना आने-जाने का रास्ता बदल लिया है। तेज प्रताप के इस फैसले से उनके घर के पीछे रहने वाले लोगों को काफी मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है।

टेलीग्राफ की रिपोर्ट के मुताबिक, तेज प्रताप ने 3, देशरत्न मार्ग स्थित अपने घर का प्रमुख गेट बंद करा दिया है। तेज प्रताप अब यहां आने-जाने के लिए पीछले दरवाजे का इस्तेमाल कर रहे हैं। जिस रास्ते से वो आते जाते हैं वहां पर झुग्गियां हैं।

दरअसल, तेज प्रताप ने ज्योतिषी अचलेश लंदन ने कहा है कि वह दक्षिण दिशा से निकलकर उत्तर की ओर जाएं। वास्तु के मुताबिक दक्षिण की तरफ का दरवाजा यम की दिशा होती है यानी मौत का दरवाजा। जबकि उत्तर की दिशा को कुबेर की दिशा कहा गया है।

यहां के निवासियों का कहना है कि स्वास्थ्य मंत्री की लगातार आवाजाही से उनकी जिंदगी काफी प्रभावित हुई है। बच्चे अब घर के बाहर नहीं खेल सकते। लोगों आराम से अपने मकानों के बाहर बैठ नहीं सकते। मंत्री के सुरक्षा गार्डों ने उस रास्ते में किसी भी बाइक की पार्किंग पर रोक लगा दी है, ताकि मंत्री के काफिले के आने-जाने में मुश्किल न हो। पिछले 50 वर्षों से 100 लोग 20 झुग्गियों में रह रहे हैं।

झुग्गी में रहने वाले एक शख्स ने कहा, हम बिना किसी डर के वर्षों से यहां रह रहे थे। लेकिन जबसे स्वास्थ्य मंत्री ने अपने बंगले में आने-जाने के लिए पीछे का दरवाजा चुना है, तब से हमारी जिंदगी नर्क बन गई है। जब तेज प्रताप का 8 गाड़ियों वाला काफिला वहां से गुजरता है तो लोग डर के मारे अपने घरों का दरवाजा बंद कर लेते हैं। एक अन्य निवासी ने कहा कि इसी रास्ते से अब आरजेडी के युवा नेता और धर्मनिर्पेक्ष सेवक संघ के कार्यकर्ता भी अपनी मोटरबाइक पर आते हैं। इस जगह कभी कोई आता नहीं था, वह अब मंत्रियों और सरकारी अधिकारियों के तेज प्रताप से मिलने का रास्ता बन गया है।

यूं तो तेज प्रताप और तेजस्वी यादव 10 सर्कुलर रोड पर अपने माता-पिता के साथ रहते हैं, लेकिन तेज प्रताप अपने आधिकारिक निवास को निजी कार्यक्रमों के लिए इस्तेमाल करते हैं। उन्होंने यहां एक वॉर रूम भी स्थापित किया हुआ है, जहां से वह अपना डीएसएस और सोशल मीडिया टीम चलाते हैं। पीछे से नया रास्ता बनाने के लिए 3 देशरत्न मार्ग पर काम जारी है और 5 झुग्गियों को तोड़ दिया गया है।

Next Story
Top