Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बिहार टॉपर का फर्जी दाखिले को लेकर जवाब

स्थानीय मीडिया ने जब गणेश से संगीत से जुड़े सामान्य सवाल पूछे तो वह उसका भी जवाब नहीं दे सका। और जबाब देने में गणेश के पसीने छूटने लगे थे।

बिहार टॉपर का फर्जी दाखिले को लेकर जवाब

बिहार बोर्ड एक बार फिर अपने टॉपर को लेकर चर्चा में है। बिहार बोर्ड की 12वीं की परिक्षा में टॉप करने वाले गणेश अपने संगीत विषय के ज्ञान को लेकर संदेह के घेरे में घिर गए हैं। जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है।

गणेश पर फर्जी तरीके से दाखिला लेने का केस दर्ज कराया गया है, साथ ही उनका रिजल्ट भी रद्द कर दिया गया है। बिहार बोर्ड ने स्कूल प्रशासन के खिलाफ भी केस किया है। गणेश कुमार ने कहा, 'गरीब लोग जब पढ़ाई करते हैं तो वह ऐसे ही फंस जाते हैं, आगे ऐसा हुआ तो लोग माफिया और आतंकवादी बनेंगे।

' लगातार दूसरे साल टॉपर घोटाले से नीतीश सरकार एक बार फिर निशाने पर है। संगीत में शानदार नंबर लाकर टॉपर बने गणेश ने मीडिया के सामने माना था कि उन्हें संगीत की कोई खास जानकारी नहीं है।

ये भी पढ़ेृ- पहले झारखंड में 7 साल चिट फंट कंपनी चलाई, फिर बना बिहार टॉपर

स्थानीय मीडिया ने जब गणेश से संगीत से जुड़े सामान्य सवाल पूछे तो वह उसका भी जवाब नहीं दे सका। वहीं, संगीत की बुनियादी बातें जैसे सुर, ताल और मात्रा किसे कहते हैं, यह बताने में भी गणेश के पसीने छूटने लगे थे।

एक टीवी न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में उसने बताया कि लता मंगेशकर को 'मैथिली कोकिला' के नाम से जाना जाता है। बता दें कि गणेश ने समस्तीपुर के स्कूल से पढ़ाई की है और समस्तीपुर की ही प्रसिद्ध लोक गायिका शारदा सिन्हा को मैथिली कोकिला के नाम से जाना जाता है।

ये भी पढ़े- Bihar Board Result 2017: फेल छात्रों ने जमकर किया विरोध प्रदर्शन, लगाए शिक्षा मंत्री मुर्दाबाद के नारे

वहीं, जब उससे पूछा गया था कि संगीत के प्रैक्टिकल में उसने क्या गाया था तो उसने कुछ चलताऊ बॉलिवुड फिल्मों के गीत गा दिए।

गणेश ने समस्तीपुर के चकहबीब के जगदीप नारायण उच्च माध्यमिक विद्यालय से इंटर पास किया है। 82.6 फीसदी मार्क्स के साथ वह आर्ट्स विषय में टॉपर हैं। म्यूजिक में उन्हें 82 फीसदी, हिंदी में 92 फीसदी और सामाजिक ज्ञान में 42 फीसदी मार्क्स मिले हैं।

जब मीडिया ने गणेश से आर्ट्स से जुड़े कुछ सवाल किए गए तो जवाब सुनकर बिहार में एक बार फिर टॉपर घोटाला होने के सवाल उठने लगे। पिछले साल बिहार की आर्ट्स टॉपर रूबी राय ने पॉलिटिकल साइंस को प्रोडिकल सायेंस बताकर पूरे देश में राज्य की शिक्षा व्यवस्था की खिल्ली उड़वाई थी।

Next Story
Top