Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मोदी के बेटे की शादी में नहीं बजेगा बैंड-बाजा, खाने को मिलेगा ''प्रसाद''

शादी तीन दिसंबर को होनी है।

मोदी के बेटे की शादी में नहीं बजेगा बैंड-बाजा, खाने को मिलेगा

बिहार के उपमुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के नेता सुशील कुमार मोदी के बेटे उत्कर्ष की शादी कुछ अनोखे ढंग से होने वाली है। यह शादी तीन दिसंबर को होगी। शादी में न तो बैंड-बाजा बजेगा और न ही बारातियों का स्वागत होगा। शादी में खाने के लिए कुछ नहीं बल्कि भगवान को लगाया गया भोग होगा।

इस शादी में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का दहेज विरोधी अभियान समेत पीएम मोदी के डिजिटल इंडिया की भी झलकियां दिखाई देंगी। सुशील मोदी से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि राज्य सरकार दहेज लेने से मना कर रही है, इसलिए मैंने भी अपने बेटे की शादी में दहेज नहीं लिया।

शादी के कार्ड में भी लिखा गया है कि इस विवाद में किसी प्रकार का दहेज नहीं लिया जा रहा है। सुशील मोदी ने कहा कि ये मेरे द्वारा की गई घोषणा है और ये बात सार्वजनिक होनी चाहिए।
इस शादी का कार्ड व्हाट्सएप से भेजा जा रहा है। यहां तक की पीएम मोदी को भी सोशल मीडिया से ही कार्ड भेजा जाएगा। बता दें कि उत्कर्ष का विवाह कोलकाता की एक लड़की से होने वाला है। उत्कर्ष एक मल्टीनेशनल कंपनी में काम करते हैं और उनकी दुल्हनियां कोलकाता में चार्टर्ड अकाउंटेट है।
सुशील मोदी ने कहा कि शादी एकदम साधारण तरीके से होगी। उन्होंने कहा कि मेरी भी शादी साधारण तरीके से हुई थी और अब हमारे बेटे की होगी। उन्होंने कहा कि शादी में नाच-गाना भी नहीं होगा। उन्होंने कहा कि मैं आम लोगों से भी विवाग में फिजूलखर्ची से बचने की सलाह दी।
Share it
Top