Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

दरभंगाः 11 साल बाद सतीश की घर वापसी, बांग्लादेश की जेल में थे कैद

विदेश मंत्रालय के हस्तक्षेप के बाद आखिरकार सतीश की 11 साल बाद वतन वापसी हो गई। वह बांग्लादेश की जेल में कैद थे।

दरभंगाः 11 साल बाद सतीश की घर वापसी, बांग्लादेश की जेल में थे कैदDarbhanga: Satish returns home after 11 years imprisoned in Bangladesh jail

बिहार के दरभंगा जिले के रहने वाले सतीश ने गुरुवार को वतन वापसी की है। वह बीते 11 सालों से बांग्लादेश की जेल में कैद रहे। सतीश भटकते हुए बांग्लादेश चले गए थे जिसके बाद से वहां की जेल में बंद थे।

घर में घुसी का माहौल

खबरों के मुताबिक बांग्लादेश के बॉर्डर गार्ड्स ने सतीश को किशनगंज स्थित दर्शना गेडे बार्डर पर बीएसएफ के हवाले किया। इसके बाद बीएसएफ ने सतीश का मेडिकल कराया। मेडिकल के बाद सतीश को दरभंगा भेजा गया। सतीश के लौटने पर उसके घर में खुशी का माहौल है।



मानसिक रूप से बीमार थे सतीश

2008 में मानसिक रूप से बीमार सतीश चौधरी इलाज के लिए पटना आए थे और फिर अचानक गायब हो गए थे। बाद में 2012 में जानकारी मिली की वह बांग्लादेश की जेल में बंद हैं।



पीएमओ ने दिया निर्देश

अपने भाई को छुड़ाने के लिए सतीश के छोटे भाई मुकेश चौधरी ने कई साल तक प्रयास किया। उन्होंने प्रधानमंत्री से मदद मांगी। पीएमओ ने विदेश मंत्रालय को निर्देश दिया था। इसके बाद सतीश के वतन वापसी की राह आसान हुई।

Next Story
Share it
Top