Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

15 राजद MLA ने लौटाये सुरक्षाकर्मी, राबड़ी बोली- मेरे परिवार को मारने की साजिश

राबड़ी देवी कि सुरक्षा में कटौती करने के बाद अब आरजेडी के 15 विधायकों ने भी अपनी सुरक्षा वापिस कर दी हैं। कल रात लालू प्रसाद यादव और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के सरकारी आवास 10 सर्कुलर रोड की सुरक्षा में तैनात बीएमपी-2 के 32 कमांडो को पुलिस मुख्यालय ने वापस बुला लिया था।

15 राजद MLA ने लौटाये सुरक्षाकर्मी, राबड़ी बोली- मेरे परिवार को मारने की साजिश
बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी कि सुरक्षा में कटौती करने के बाद अब आरजेडी के 15 विधायकों ने भी अपनी सुरक्षा वापिस कर दी हैं। आपको बता दें कि कल रात लालू प्रसाद यादव और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के सरकारी आवास 10 सर्कुलर रोड की सुरक्षा में तैनात बीएमपी-2 के 32 कमांडो को पुलिस मुख्यालय ने वापस बुला लिया था।
जिसके विरोध में राबड़ी देवी के दोनों बेटों नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और पूर्व मंत्री तेजप्रताप यादव समेत आरजेडी के विधायक और विधान सभा के पार्षदों ने भी सुरक्षा वापस लौटा दी है। जिसके बाद राबड़ी देवी ने बिहार के मौजूदा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को खत लिखकर उनकी सुरक्षा से जानबूझकर छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया था।
राबड़ी देवी ने नीतीश कुमार को लिखे पत्र में कहा है कि मेरी एवं परिवार की सुरक्षा पूर्ण रूप से ध्वस्त हो गई है। इसलिए मैं शेष बचे सुरक्षाकर्मी व गाड़ियो को अविलंब सरकार को वापस कर रही हूं। राबड़ी ने पत्र में लिखा कि अगर उनको या उनके परिवार के किसी सदस्य को किसी तरह का कोई नुकसान होता है तो उसके लिए राज्य के गृह मंत्री जिम्मेदार होंगे।
राबड़ी देवी के सुरक्षा वापस बुलाने को लेकर पुलिस मुख्यालय के एडीजी एस.के सिंघल ने बताया कि राबड़ी देवी के सरकारी आवास से सुरक्षा वापस लेने का निर्णय विशेष दस्ते द्वारा लिया गया है।
सिंघल ने बताया कि विशेष शाखा की सुरक्षा समिति ही राज्य में किसी भी गणमान्य व अति विशिष्ट लोगों की जान पर खतरा और उनकी सुरक्षा का आकलन करती है। समय-समय पर इस समिति की बैठक में गणमान्य व अतिविशिष्ट लोगों की जान पर खतरा और उनकी सुरक्षा की समीक्षा की जाती है।
वहीं दूसरी तरफ बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और राबड़ी देवी के छोटे बेटे तेजस्वी यादव ने सुरक्षा में कटौती किए जाने को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए कहा कि हम डरपोक नहीं है जो अपनी सुरक्षा में 800 जवान तैनात रखे। तेजस्वी ने नीतीश कुमार को लेकर कहा कि लौटाए गए सुरक्षाकर्मियों को नीतीश कुमार अपनी सुरक्षा में लगा लें।
तेजस्वी ने कहा कि हम लोग तो गरीब जनता के बीच में रहते है। यहीं नहीं तेजस्वी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर आरोप लगाते हुए कहा कि बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष होने के नाते उन्होंने असंवैधानिक तरीके से मुझे प्राप्त अधिकारों को दरकिनार करते हुए पहले सुबह सरकारी आवास खाली करने का नोटिस भिजवाया और फिर शाम को मेरे परिवार कि सुरक्षा में कटौती कर दी।
Next Story
Top