Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बाइक चेकिंग के दौरान पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट करने वाला शख्स गिरफ्तार

भागलपुर में बाइक चेकिंग के दौरान शनिवार को पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट करने वाले आरोपी को बरारी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी मुनमुन कुमार जीरोमाइल ताना क्षेत्र के बाबा महंत नगर ज्योति विहार कॉलोनी का रहने वाला है। उसके पिता नाम श्रीनिवास सिंह है।

साइड मांगने पर नशे में धुत युवक ने बाइक सवार शख्स पर ब्लेड से किया  ताबड़तोड़ हमलायुवक गिरफ्तार (प्रतीकात्मक फोटो)

भागलपुर में बाइक चेकिंग के दौरान शनिवार को पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट करने वाले आरोपी को बरारी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी मुनमुन कुमार जीरोमाइल थाना क्षेत्र के बाबा महंत नगर ज्योति विहार कॉलोनी का रहने वाला है। उसके पिता नाम श्रीनिवास सिंह है। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर उसे गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तारी के बाद उसने थाने में हंगामा किया। जिस कारण उसे बरारी थाने से मोजाहिदपुर थाने भेज दिया गया। पुलिस ने उससे पूछताछ भी की है।

सिपाही सूर्य संगम सिंह ने केस में कहा है कि हम पुलिसकर्मियों की हत्या भी हो सकती थी। लोगों के द्वारा पूछताछ करने पर बताया गया कि उक्त व्यक्ति मार्बल व्यवसायी है। जो ज्योति विहार जीरो माइल का रहने वाला है। केस में उपरोक्त सभी व्यक्तियों के द्वारा सरकारी काम में बाधा डाला गया। सिपाही के बयान पर बरारी थाने में मार्बल व्यवसायी और अज्ञात पचास के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। पुलिस ने जानलेवा हमले, छेड़खानी, सरकारी काम में बाधा समेत अन्य आरोप के तहत केस किया है।



बरारी थानाध्यक्ष ने बताया कि पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। केस के अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस प्रयासरत है। पुलिस अफसरों ने बताया कि गिरफ्तारी के बाद उसने पुलिस कर्मियों को अंग्रेजी में ही हड़काना शुरु कर दिया। चौबीस घंटे के अंदर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है।

बता दें कि शनिवार की दोपहर करीब एक बजे मनाली चौक के पास उसने बाइक चेकिंग के दौरान हंगामा करते हुए पुलिस के साथ मारपीट व सरकारी काम में बांधा उत्पन्न किया था। ट्रैफिक थाने के सिपाही सूर्य संगम सिंह ने घटना को लेकर बरारी थाने में केस किया था।

प्राथमिकी में उसने कहा था कि सात सितंबर को वह करीब एक बजे मनाली चौक पर ड्यूटी कर रहा था। इसी दौरान एक महिला सिपाही द्वारा संदिग्ध ब्लैक एक्टिवा स्कूटी को रोका गया। रोकने के बाद महिला सिपाही ने गाड़ी को साइड करने को कहा गया। लेकिन गाड़ी साइड करने के बदले चालक ने महिला सिपाही के हाथ से चाबी छीन ली और भागने का प्रयास करने लगा। उसने महिला सिपाही के सात अभद्र व्यवहार किया। इतना ही नहीं उसने फोन कर करीब पचास और साथियों को बुलाकर उसे और अन्य पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट की।

Next Story
Top