Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मुजफ्फरपुर कांड का पटना आसरा होम कनेक्शन, तेजस्वी ने उठाए अहम सवाल, घेरे में कई मंत्री-बड़े अधिकारी

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस की गुत्थी सुलझी नहीं कि बिहार पुलिस के सामने पटना आसरा होम ने नई चुनौती रख दी। राजीव नगर में चल रहे आसरा होम में दो युवतियों की संदिग्ध मौत के बाद सनसनी फैली है।

मुजफ्फरपुर कांड का पटना आसरा होम कनेक्शन, तेजस्वी ने उठाए अहम सवाल, घेरे में कई मंत्री-बड़े अधिकारी
X

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस की गुत्थी सुलझी नहीं कि बिहार पुलिस के सामने पटना आसरा होम ने नई चुनौती रख दी। राजीव नगर में चल रहे आसरा होम में दो युवतियों की संदिग्ध मौत के बाद सनसनी फैली है। डीएम कुमार रवि ने भी चौंकाने वाले खुलासे किए हैं तो वहीं तेजस्वी यादव ने भी अहम सवाल उठाए हैं।

पटना के राजीव नगर में चल रहे आसरा होम में दो लड़कियों की मौत के बाद राजनीति और भी गरमा गई है। बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर लिखा है कि पटना के शेल्टर होम की जिन दो लड़कियों की अकस्मात मौत हुई है क्या वो मुज़फ़्फ़रपुर से यहाँ लाई गयी थी? क्या यह संयोग है कि दोनों लड़कियाँ वयस्क थी, सब जानती थी इसलिए मार दिया गया? पुलिस को सूचना दिए बिना उनका अंतिम संस्कार क्यों किया जा रहा था? नीतीश जी, ये कौन करवा रहा है?

इसे भी पढ़ें- मुजफ्फरपुर के बाद पटना शेल्टर होम में दो मृत लड़कियां मिली, PMCH भेजी गई मृतिकाएं

दो युवतियों की मौत पर सवाल उठने का कारण है कि युवतियों की मौत के बाद इनको चोरी-छुपे दफनाने का काम चल रहा था। तभी इसकी भनक पुलिस को लग गई और मामला सामने आया। हालांकि एक युवती का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

बता दें कि रविवार को इसको लेकर पीएमसीएच के सुपरिटेंडेंट ने बताया था कि मृत लड़कियों को अस्पताल लाया गया था जबकि आसरा होम का दावा है कि इलाज के दौरान मौत हुई है। इसको लेकर सोमवार की शाम तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने की संभावना है।

पटना के दो सेलिब्रिटी चेहरे मनीषा दयाल और चिरंतन दोनों पटना के राजीव नगर में चलने वाले आसरा गृह को चलाने वाली संस्था अनुमाया ह्यूमन रिसोर्स फाउंडेशन से जुड़े है। मनीषा दयाल इस संस्था की निदेशक है जबकि आसरा गृह में निदेशक लेखाधिकारी है

जबकि चिरंतन आसरा गृह में सचिव है । अभी तक इस मामले में कुछ चेहरों पर उंगलियां उठ रही हैं। जिसमें कि आसरा होम के सचिव, निदेशक घेरे में हैं। बताया जा रहा है कि इन लोगों के संपर्क बड़े मंत्रियों-नेताओं और आईएस अधिकारियों से हैं। फिलहाल मामले की जांच पटना के एसएसपी मनु महाराज और जिलाधिकारी कुमार रवि कर रहे है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story