Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आसमान से बिहार के मधुबनी में गिरा रहस्यमय पत्थर और फिर...

बिहार के मधुबनी जिले में फुटबॉल के आकार का एक रहस्यमय पत्थर धान के खेत में पड़ा मिला। इस पत्थर को लेकर अंदेशा जताया जा रहा है कि यह उल्कापिंड हो सकता है क्योंकि इसमें चुंबकीय गुण हैं।

आसमान से बिहार के मधुबनी में गिरा रहस्यमय पत्थर और फिर...

बिहार के मधुबनी जिले में फुटबॉल के आकार का एक रहस्यमय पत्थर धान के खेत में पड़ा मिला। इस पत्थर को लेकर अंदेशा जताया जा रहा है कि यह उल्कापिंड हो सकता है क्योंकि इसमें चुंबकीय गुण हैं।

मुख्यमंत्री कार्यालय ने एक बयान में बताया कि बिहार के महादेवा गांव में मिले इस पत्थर का वजन लगभग 13 किलोग्राम है और इसमें चुंबकीय गुण भी पाए गए। तस्वीर में साफ दिखाई दे रहा है कि धान के खेत में इस पत्थर के कारण गढ्ढा बना हुआ है। इसके इर्द-इर्द गिर्द ग्रामीण खड़े हैं। दरअसल जब यह पत्थर गिरा तो किसान खेत में काम कर रहे थे।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बताया कि इस पत्थर बिहार म्यूजियम में रखा गया है। यहां से इसे विश्लेषण के लिए श्रीकृष्ण विज्ञान केंद्र ट्रांसफर किया जाएगा ताकि यह सुनिश्चित किया जा सकेगा कि यह उल्कापिंड है या नहीं।



हालांकि दिखने में यह एक सामान्य पत्थर की तरह दिख रहा है, उल्कापिंड अक्सर भारी होते हैं और बाहरी हिस्सा जला हुआ होता है और अधिक चमकदार दिखाई देता है। उसमें चुंबकीय गुण भी होता है।

अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा के मीटॉइड ऑफिस में स्टीवन एहलर्ट ने हाल ही में बताया कि शोधकर्ता उल्कापिंड के लिए बहुत रूचि रखते हैं क्योंकि उसका अध्ययन करने से हमें सौर मंडल के गठन और विकास को समझने में मदद मिलती है।

Next Story
Top