Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जानिए क्या है सीवान तेजाब कांड

गिरीश कुमार और सतीश कुमार के शरीर पर तेजाब डालकर निर्मम हत्या कर दी गई थी।

जानिए क्या है सीवान तेजाब कांड

सीवान तेजाब कांड के नाम से चर्चित अपहरण और हत्या की वारदात से सीवान समेत पूरा बिहार कांप उठा था। दरअसल तकरीबन 13 साल पहले 16 अगस्त 2004 को सिवान के व्यवसायी चंद्रकेश्वर प्रसाद उर्फ चंदाबाबू के दो बेटे गिरीश कुमार और सतीश कुमार उर्फ सोनू को पहले अपहरण किया गया। फिर उसके शरीर पर तेजाब डालकर निर्मम हत्या कर दी गई थी।

इसे भी पढ़ें: लालू के घोटालों-विवादों का अंतहीन सिलसिला

आपको बता दें कि शहाबुद्दीन के अड्डे प्रतापपुरा में इन दो भाइयों को तेजाब से इस कदर नहलाया गया कि कुछ ही मिनटों में उनका शरीर झुलसने लगा था। वे चिल्लाकर रहम की गुहार लगा रहे थे लेकिन वहां मौजूद लोग तमाशा देख रहे थे।

इसे भी पढ़ें:पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड: CBI ने शहाबुद्दीन को बनाया मुख्य आरोपी

गौरतलब है कि इस जघण्य हत्याकांड में मोहम्मद शहाबुद्दीन के साथ-साथ राजकुमार साह, मुन्ना मियां एवं शेख असलम को भी उम्रकैद की सजा सुनाई थी। इस तेजाब हत्याकांड के गवाह और मृतकों के भाई राजीव ने अदालत को बताया था कि वारदात के समय पूर्व सांसद शहाबुद्दीन खुद वहां उपस्थित थे।

Next Story
Top