Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

JNU के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार 2019 में बेगूसराय से लड़ सकते हैं लोकसभा चुनाव

जेएनयूएसयू के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार बेगूसराय से भाकपा के उम्मीदवार के तौर पर महागठबंधन :राजद, कांग्रेस, हम और राकांप: के सहयोग से 2019 में लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं।

JNU के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार 2019 में बेगूसराय से लड़ सकते हैं लोकसभा चुनाव
X

जेएनयू स्टूडेंट्स यूनियन (जेएनयूएसयू) के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार बेगूसराय से भाकपा के उम्मीदवार के तौर पर महागठबंधन :राजद, कांग्रेस, हम और राकांप: के सहयोग से 2019 में लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं।

जेएनयूएसयू के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने फोन पर पीटीआई-भाषा को बताया, "अगर पार्टी (भाकपा) मुझे बेगूसराय से उम्मीदवार के रूप में नामित करने का फैसला करती है और महागठबंधन के अन्य सहयोगी दल भी अपना समर्थन देते हैं तो मुझे इसमें कोई आपत्ति नहीं है।" हालांकि, कन्हैया ने यह स्पष्ट कर दिया कि सीट साझा करने को लेकर पार्टी या महागठबंधन स्तर पर कोई औपचारिक वार्ता नहीं हुई है।

इसे भी पढ़ें- केरल: बाढ़ के बाद पानी से होने वाली बीमारी से 7 लोगों की मौत, सरकार ने जारी किया अलर्ट

यह पूछे जाने पर कि महागठबंधन से तालतेल नहीं होने पर क्या भाकपा अपने दम पर उन्हें उम्मीदवार बना सकती है, कन्हैया ने महागठबंधन से तालमेल होना निश्चित बताते हुए कहा कि भाकपा चुनाव में अकेले नहीं उतरेगी क्योंकि पार्टी ने एक प्रस्ताव पारित किया था जिसके अनुसार वह गठबंधन बनाने और समान विचार वाले दलों के बीच समन्वय स्थापित करेगा जिसमें भाकपा निश्चित रूप से एक हिस्सा होगा।

भाकपा के राज्य सचिव सत्यनारायण सिंह ने बताया कि उनकी पार्टी सहित सभी वामदल चाहते हैं कि कन्हैया कुमार बेगूसराय से 2019 में लोकसभा चुनाव लड़ें तथा राजद और कांग्रेस जैसे अन्य दल भी चाहते हैं कि वे चुनाव लड़ें। राजद प्रमुख लालू प्रसाद के भी इस संबंध में अपनी सहमति देने की चर्चा के बारे में पूछने पर सत्यनारायण ने कहा कि पूर्व में उनसे हुई वार्ता के दौरान वह एक सीट कन्हैया कुमार के लिए छोड़ देने के लिए राजी थे।

उन्होंने बताया कि उनकी पार्टी ने अगले आम चुनाव में बिहार में छह लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ने का फैसला किया है लेकिन इस बारे में अंतिम निर्णय हमख्याल दलों के साथ वार्ता के बाद लिया जाएगा। जिन छह सीटों पर भाकपा अपना उम्मीदवार उतारना चाहती है उनमें बेगूसराय, मधुबनी, मोतिहारी, खगड़िया, गया और बांका शामिल हैं।

इसे भी पढ़ें- 16 सितंबर को करेंगे जोधपुर को दौरा भाजपा अध्यक्ष अमित शाह

यह पूछे जाने पर कि क्या कन्हैया कुमार ने बेगूसराय से चुनाव लड़ने को लेकर अपनी सहमति प्रदान कर दी है, सत्यनारायण ने कहा कि इसके लिए वह राजी हैं। उन्होंने कहा कि हालांकि कन्हैया बेगूसराय से भाकपा के उम्मीदवार होंगे पर महागठबंधन के घटक दलों राजद, कांग्रेस, हम सेक्युलर और राकांपा तथा अन्य वामदल का उन्हें समर्थन प्राप्त होगा।

कन्हैया बेगूसराय जिला के बरौनी प्रखंड अंतर्गत बिहट पंचायत के मूल निवासी हैं जबकि उनकी मां एक आंगनवाड़ी सेविका तथा उनके पिता एक छोटे किसान हैं। कभी वामपंथियों का गढ माने जाने वाले बेगूसराय से वर्तमान में सांसद भाजपा के वरिष्ठ नेता भोला सिंह हैं। 2014 के लोकसभा चुनाव में राजद उम्मीदवार तनवीर हसन दूसरे तथा भाकपा उम्मीदवार राजेंद्र प्रसाद सिंह, जदयू के समर्थन से तीसरे स्थान पर रहे थे ।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story