Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जदयू विधायक की सरेआम धमकी, बोले- सबको जूते मारेंगे, हाथ जोड़े खड़े रहे डॉक्टर

जदयू विधायक की गुंडई का मामला सामने आया है। दरअसल जदयू के एक कार्यकर्ता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। जदयू के विधायक डॉक्टरों पर नेचुरल डेथ की बात कह सर्टिफिकेट बनाने का दबाव बना रहे थे। जब डॉक्टर नहीं माने तो उन्होंने धमकी दे डाली और कहा कि सबको जूते से मारेंगे। यह देखकर देखकर सिविल सर्जन हाथ जोड़ते रहे। लेकिन विधायक जी का गुस्सा कम नहीं हुआ।

जदयू विधायक की सरेआम धमकी, बोले- सबको जूते मारेंगे, हाथ जोड़े खड़े रहे डॉक्टर

जदयू विधायक की गुंडई का मामला सामने आया है। दरअसल जदयू के एक कार्यकर्ता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। जदयू के विधायक डॉक्टरों पर नेचुरल डेथ की बात कह सर्टिफिकेट बनाने का दबाव बना रहे थे। जब डॉक्टर नहीं माने तो उन्होंने धमकी दे डाली और कहा कि सबको जूते से मारेंगे। यह देखकर देखकर सिविल सर्जन हाथ जोड़ते रहे। लेकिन विधायक जी का गुस्सा कम नहीं हुआ।

खबरों के मुताबिक अस्पताल के सिविल सर्जन जदयू विधायक के सामने हाथ जोड़े खड़े रहे, फिर भी विधायक का गुस्सा कम नहीं हुआ। सिविल सर्जन का कहना था कि पुलिस के आने के बाद ही पोस्टमार्टम की प्रक्रिया शुरू होगी। ये सुनते ही विधायक जी का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया और सिविल सर्जन पर बरस पड़े और बिना कानूनी प्रक्रिया पूरी किए पोस्टमार्टम का दबाव बनाने लगे।



सिविल सर्जन के साथ विधायक जी के इस व्यवहार से नाराज सदर अस्पताल के सभी डॉक्टर हड़ताल पर चले गए हैं। जदयू कार्यकर्ता के परिजनों के मुताबिक जितेंद्र कुमार 11 बजे भोजन करके सोए। इसके बाद सुबह जगने में देर होने के बाद जब उन्हें उठाने गए तो उनकी मौत हो चुकी थी। जितेंद्र कुमार सारे थाना क्षेत्र के बड़ेपुर गांव के रहने वाले थे।

जितेंद्र के शव का सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम हो चुका है लेकिन डॉक्टर अभी इस पर कुछ बताने को तैयार नहीं हैं। इसी दौरान पोस्टमार्टम में देरी के कारण जदयू विधायक ने सिविल सर्जन परमानन्द चौधरी और अन्य डॉक्टरों बुरी तरह डांटा।

Next Story
Top