Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नागरिकता संशोधन एक्ट पर जेडीयू नेता आरसीपी सिंह ने खोला मोर्चा, सीएम नीतीश से मिलेंगे प्रशांत किशोर

नागरिकता संशोधन एक्ट को लेकर जेडीयू दो फाड़ में बंटी। आरसीपी सिंह ने प्रशांत किशोर को दी सलाह, बोले हमने कैब पढ़ा है हमें ना पढ़ायें।

CAB पर जेडीयू नेता आरसीपी सिंह ने खोला मोर्चा, सीएम नीतीश से मिलेंगे प्रशांत किशोर
X
प्रशांत किशोर, नीतीश कुमार और आरसीपी सिंह

नागरिकता संशोधन एक्ट लागू हो चुका है। ऐसे में इस बिल को लेकर जहां लोग प्रदर्शन कर रहे हैं तो वहीं कई गैर बीजेपी शासित राज्यों में भी इस बिल को लागू ना करने के लिए लड़ाई हो रही है। ऐसे में जेडीयू पार्टी उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर सीएम नीतीश कुमार से मुलाकात करेंगे।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, जनता दल यूनाइटेड (JDU) में नागरिकता संशोशन एक्ट को लेकर पार्टी दो फाड़ में बंटती नजर आ रही है। जेडीयू नेता आरसीपी सिंह ने प्रशांत किशोर के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

एक बैठक के दौरान आरसीपी सिंह ने कहा कि कौन हैं प्रशांत किशोर?, कब आये है पार्टी में?, क्या किया है पार्टी के लिए? और वो किसके लिए काम कर रहे हैं। हम सब जानते हैं। हम लोगो ने कैब एक्ट पढ़ा है, वो हमें ना पढ़ायें।

ऐसे में पार्टी विरोधी बयानबाजी करने को लेकर पीके और पवन वर्मा जैसे नेताओं को जवाब मिल रहा है। हाल ही में जेडीयू नेता प्रशांत किशोर ने केंद्र सरकार के नागरिकता संशोधन बिल को लेकर कहा था कि गैर भाजपा शासित मुख्यमंत्रियों को इस बिल का विरोध करना चाहिए। इसको लेकर उन्होंने एक ट्वीट भी किया। ऐसे में पार्टी बिल के पक्ष में है और प्रशांत किशोर अलग नजर आ रहे हैं।

लेकिन प्रशांत किशोर, पवन वर्मा और गुलाम रसूल वलियावी खुलेआम इस कदम पर अपने पार्टी बॉस के खिलाफ सामने आए। प्रशांत किशोर ने अपने एक और ट्वीट को एक दिन के लिए अपमानजनक बताया। उन्होंने कहा कि संसद में बहुमत बरकरार रहा। अब न्यायपालिका से परे, भारत की आत्मा को बचाने का काम 16 गैर-भाजपा सीएम पर है क्योंकि यह ऐसे राज्य हैं, जिन्हें इन कार्यों को संचालित करना है। पंजाब / केरल / पश्चिम बंगाल इसे लागू नहीं करना चाहते हैं और ऐसे में बाकी राज्यों के सीएम को भी समझना होगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story