Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अजब बिहार की गजब व्यथा, डॉक्टर बनाता है पर्ची, गार्ड करता है पूरा इलाज

बिहार में स्वास्थ्य व्यवस्था के तो क्या कहने। हर दिन कोई न कोई मामला ऐसा आता रहता है जिससे आम जनता को सोचने के लिए मजबूर हो जाना होता है। ताजा मामला राज्य के सहरसा जिले का है जहां एक अस्पताल में डॉक्टर नहीं बल्कि वहां का गार्ड मरीजों का इलाज करता है।

अजब बिहार की गजब व्यथा, डॉक्टर बनाता है पर्ची, गार्ड करता है पूरा इलाज

बिहार में स्वास्थ्य व्यवस्था के तो क्या कहने। हर दिन कोई न कोई मामला ऐसा आता रहता है जिससे आम जनता को सोचने के लिए मजबूर हो जाना होता है। ताजा मामला राज्य के सहरसा जिले का है जहां एक अस्पताल में डॉक्टर नहीं बल्कि वहां का गार्ड मरीजों का इलाज करता है।

इसमें भी अचरज की बात ये कि ये सब डॉक्टर की मौजूदगी में होता है, वहां नियुक्त डॉक्टर मरीजों की पर्ची बनाते हैं। इस मामले का खुलासा 28 जुलाई की रात अनुमंडल के अलग-अलग सड़क हादसों के बाद हुआ। घायलों को जब अस्पताल लाया गया तो डॉक्टर के बजाय गार्ड ने इलाज करना शुरू कर दिया।

गार्ड द्वारा इलाज किए जाने के बारे में जब उससे पूछा गया तो उसने कहा कि अस्पताल में कम्पाउंडरों की कमी है। इसलिए उन्हें ऐसा करना पड़ रहा है। यही नहीं गार्ड ने दावा किया कि उसे मरीजों की समस्याओं और उसके उपचार की पूरी जानकारी है।

गार्ड द्वारा इलाज करने और डॉक्टर द्वारा पर्ची बनाने का मामला जैसे ही हाईलाइट हुआ जिले के सिविल सर्जन ललन प्रसाद सिंह ने कहा कि इस मामले की जांच करवाई जाएगी और आरोप साबित होने पर डॉक्टर व गार्ड पर कार्रवाई की जाएगी।

बख्तियारपुर के लोग डॉक्टर पर मरीजों की जान से खिलवाड़ करने का आरोप लगाते हैं। बिहार में पटरी से उतरी चिकित्सा व्यवस्था ने पिछले दिनों चमकी बुखार से करीब 200 बच्चों को मौत के नींद सुला दिया था। जिसपर कार्रवाई से ज्यादा राजनीति हुई थी।

Next Story
Top