Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मंदिर निर्माण के लिए चंदा मांगने पहुंचे 4 लोगों को बच्चा चोर समझकर बेरहमी से पीटा

बच्चा चोरी के शक में लोगों की पिटाई के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। ताजा मामला बिहार के मोतीपुर के बरूराज का है। यहां चौरघटा गांव में जादू दिखाकर चंदा मांगने पहुंचे चार लोगों को बच्चा चोर समझकर उनकी बुरी तरह पिटाई कर दी। इसके बाद चारों लोगों को रस्सी से बांधकर घर में बंद कर दिया गया। घटना चौरघटा गांव में हुई है। पुलिस ने चारों पीड़ितों को अपने कब्जे में ले लिया।

मंदिर निर्माण के लिए चंदा मांगने पहुंचे चार लोगों को बच्चा चोर समझकर बेरहमी से पीटाFour People who came to ask for Donations For Temple Construction Beaten Mercilessly As Child Thieves

बच्चा चोरी के शक में लोगों की पिटाई के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। ताजा मामला बिहार के मोतीपुर के बरूराज का है। यहां चौरघटा गांव में जादू दिखाकर चंदा मांगने पहुंचे चार लोगों को बच्चा चोर समझकर उनकी बुरी तरह पिटाई कर दी। इसके बाद चारों लोगों को रस्सी से बांधकर घर में बंद कर दिया गया। घटना चौरघटा गांव में हुई है। पुलिस ने चारों पीड़ितों को अपने कब्जे में ले लिया।

खबरों के मुताबिक चारों घायल लोगों की पहचान साहेबगंज के धारोपाली निवासी पुत्र रामबाबु भगत, राज कुमार भगत, रामपुर के मनोहर उपाध्याय और तेलिया छपरा के सोनू दास के रुप में हुई है। वेरीफिकेशन के दौरान मंदिर निर्माण के लिए चंदा मांगने की बात की पुष्टि हुई है।



सूचना पर पीड़ितों के गांव से भी सैकड़ों की संख्या में लोग थाने पहुंचे। चारों लोगों को मंदिर निर्माण के लिए चंदा मांगने वाला बताया। वहीं चारों के निर्दोष पाए जाने के बाद पुलिस अब उन लोगों की पहचान करने में जुटी है जिन्होंने इनकी पिटाई कर दी थी।

पीड़ितों ने बताया कि धारोपाली गांव में हनुमानजी का मंदिर निर्माण हो रहा है। वे मैजिक पर सवार होकर गांव-गांव जाकर चंदा इकट्ठा करते हैं। इसी दौरान वे चंदा मांगने बुधवार को चौरघटा गांव पहुंचे थे। चंदा देनेवालों को प्रसाद भी दिया। इसके बाद चौरघट्टा उत्क्रमित मध्य विद्यालय के समीप गाड़ी लगाकर पेड़ के नीचे आराम कर रहे थे। इसी दौरान कुछ शरारती युवकों ने बच्चा चोर कहकर हल्ला करना शुरू कर दिया। जिसके बाद लाठी- डंडा लेकर लोग की भीड़ उन सभी पर टूट पड़ी।



पुलिस जब घटना स्थल पर पहुंची तो लोग इन चारों को बच्चा चोर बताकर जेल भेजने की मांग करने लगे। पुलिस को इन चारों घायलों को अपने कब्जे में लेने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। थानाध्यक्ष अनूप कुमार के मुताबिक अफवाह फैलाने और मारपीट करने वाले शरारती तत्वों की पहचान की जा रही है। सभी के खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा।

Next Story
Top