Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

चारा घोटालाः एक बार फिर टली सुनवाई, अब शनिवार को होगा सजा का ऐलान

चारा घोटाले के एक मामले में लालू प्रसाद यादव की सज़ा पर आज फ़ैसला आ सकता है। इससे पहले गुरुवार को लालू प्रसाद यादव कोर्ट में पेश हुए।

चारा घोटालाः एक बार फिर टली सुनवाई, अब शनिवार को होगा सजा का ऐलान

चारा घोटाले के देवघर कोषागार मामले में लालू की सजा पर फैसला एक बार फिर टल गया है। सजा पर फैसला शनिवार के बाद आने की संभावना है। सारे दोषियों की सुनवाई के बाद जज शिवपाल सिंह फैसला सुनाएंगे।

शनिवार को छह दोषियों की सुनवाई होगी। शुक्रवार को राजा राम जोशी और महेश प्रसाद की भी सुनवाई पूरी हो गई। आज अब कोई सुनवाई नहीं होगी।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग रूप में सिर्फ जज मौजूद है, जबकि पूरा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग रूम खाली है। लालू के वकील और सीबीआई अधिकारी भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग रूम में नहीं है। लालू सजा सुनने के लिए कोर्ट नहीं गए हैं, बल्कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से पेशी हुई है।

इससे पहले चारा घोटाले लालू प्रसाद यादव ने अधिक उम्र एवं स्वास्थ्य का हवाला देकर सीबीआई कोर्ट से कम से कम सजा दिये जाने का अनुरोध किया है। गुरुवार को लालू प्रसाद यादव कोर्ट में पेश हुए। उन्होंने जज से कहा कि जेल में बहुत ठंड है, जवाब में जज साहब ने कहा कि तबला बजाइये। कोर्ट रूम से जाने से पहले लालू प्रसाद ने जज से अपील की कि वह ठंडे दिमाग से सोचें।

इससे पहले जज शिवपाल सिंह ने कोर्ट में सिर्फ़ आरोपियों के वकील और कुछ पत्रकारों को रहने की बात कही तब वकील विरोध करने लगे। इस पर जज ने कहा इस तरह की गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं करेंगे। वकीलों ने गुंडा शब्द पर विरोध किया तो जज ने अपनी बात पर खेद जताया।
950 करोड़ रुपये के चारा घोटाले से जुड़े देवघर कोषागार से 89 लाख 27 हजार रुपये की अवैध निकासी के मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री एवं राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव, आर के राणा, जगदीश शर्मा एवं तीन वरिष्ठ पूर्व आईएएस अधिकारियों समेत 16 दोषियों को सजा गुरुवार तक के लिए टल गई थी।

कई मुकदमों पर होनी है सुनवाई

लालू प्रसाद के खिलाफ चारा घोटाले में यह दूसरा ऐसा मामला है जिसमें अब आज सजा सुनाये जाने की संभावना है। इसके अलावा उनके खिलाफ कुछ मुकदमे अभी चल रहे हैं जिनकी सुनवाई अंतिम दौर में है।
अदालत की कार्यवाही प्रारंभ होते ही रांची बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने अदालत को सूचित किया कि उनके सहयोगी बिंदेश्वरी प्रसाद का निधन हो गया है लिहाजा दोपहर बाद वकील अदालती कार्यवाही में हिस्सा नहीं लेंगे।

कम सजा की मांग

इस बीच लालू के अधिवक्ता चितरंजन प्रसाद ने लालू एवं अन्य सभी 16 अभियुक्तों की अदालत में उपस्थिति के बीच लालू प्रसाद यादव की अधिक उम्र एवं स्वास्थ्य का हवाला देकर उन्हें कम से कम सजा दिये जाने का अनुरोध किया।
Next Story
Top