Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बिहार में बाढ़ का कहर, अबतक 56 की मौत, टूटा 100 साल का रिकॉर्ड

बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों में अररिया और पश्चिमी चंपारण शामिल हैं।

बिहार में बाढ़ का कहर, अबतक 56 की मौत, टूटा 100 साल का रिकॉर्ड

बिहार में बाढ़ का कहर देखने को मिल रहा है। बाढ़ से अबतक 61 लोगों की मौत हो चुकी है लेकिन अगर औपचारिक रूप से देखा जाए तो सिर्फ 56 लोगों के मरने की पुष्टि हुई है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बुधवार को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लेंगे।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस 10 रुपए में खिलाएगी भर पेट खाना

बता दें कि बिहार में बाढ़ के कारण 65 लाख आबादी प्रभावित हुई है। यहां सबसे बुरी तरह प्रभावित कोसी-सीमांचल क्षेत्र है। चंपारण में भी बाढ़ का सबसे भयानक रूप देखने को मिला है। आज शाम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आपदा प्रबंधन सचिव अमृत प्रत्यय के साथ बैठक कर हालात का जायजा लेंगे और राहत-बचाव कार्य के लिए आगे की रणनीति तय करेंगे।
बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों में अररिया और पश्चिमी चंपारण शामिल हैं। इन दोनों जगहों पर 20-20 यानी 40 लोगों की मौत हो चुकी है। स्थानीय प्रचंड स्तरीय अफसरों ने पश्चिम चंपारण में 20 लोगों की मौत होने की पुष्टि की। उल्लेखनीय है कि पश्चिमी चंपारण के गौनाहा में 20 लोग पानी में बह गए जिसमें 10 शव बरामद किए गए है और 10 लोगों की तलाश अभी भी जारी है।
यहीं के भिथनाठोढ़ी में पंडई नदी में 31 घर पानी में विलीन हो गए। इस बात की पुष्टि क्षेत्र का जायजा लेने आए सीओ ने की। किशनगंज, पूर्वी चंपारण में क्रमश: पांच एवं तीन लोगों की मौत हुई है। सीतामढ़ी में बाढ़ के कारण अभी तक 7 लोगों की और दरभंगा में तीन लोगों की मौत हुई है। मधुबनी में 2 लोगों की मौत हुई है।
Next Story
Top