Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

लालची बाप ने मरे हुए बेटे का कराया 85 लाख का बीमा, क्लेम उठाने के चक्कर में पहुंचा जेल

पटना के एक बाप ने लालच के चक्कर में मरे हुए बेटे का 85 लाख का इंश्योरेंस करा दिया। इंश्योरेंस कराने के छह माह बाद बेटे को दोबारा मरा हुआ दिखाकर क्लेम उठाने की साजिश रची। बीमा का क्लेम उठाने जब पहुंचा तो बीमा कंपनियों ने बाप की साजिश को पकड़ लिया।

मर चुके बेटे का कराया 85 लाख का बीमा, पिता व सहयोगी के खिलाफ केस दर्जMan Insured Dead Son with 85 Lakh Rupees Policy, Case Registered against Father and Accomplice

बिहार की राजधानी में लाखों का बीमा उठाने का अजीबो गरीब मामला सामने आया है। लालची बाप ने चार साल पहले मर चुके बेटे का इंश्योरेंस कराकर 85 लाख का बीमा उठाने की कोशिश की है। संवेदनहीनता दिखाते हुए बाप ने चार साल पहले मर चुके बेटे को दोबारा से मरा हुआ दिखा दिया।

जानकारी के मुताबिक पटना में आईसीआईसीआई के रीजनल मैनेजर रणजीत सिंह ने अपनी कंपनी के एडवाइजर व एक अन्य व्यक्ति के खिलाफ पैसे ठगने के आरोप ने मामला दर्ज कराया है। शिकायत में रणजीत सिंह ने कहा है कि राजेंद्र राव के पुत्र रंधीर कुमार की मौत चार साल पहले करंट लगने से हुई थी। लेकिन चार साल बाद कंपनी के एडवाइजर कृष्ण चंद्र सिंह की मदद से मृतक के पिता ने रंधीर कुमार के नाम पर 30 लाख का बीमा कराया। उसके छह महीने बाद बेटे की मौत का दावा करके इंश्योरेंस क्लेम किया।

चार अन्य कंपनियों में भी कराया था बीमा

पुलिसकी तरफ से मामले की जांच में सामने आया कि रंधीर कुमार की मौत पांच साल पहले हो चुकी थी। जांच में यह भी पता लगा कि राजेंद्र राय ने मृत बेटे के नाम पर आईसीआईसीआई के अलावा चार अन्य कंपनियों में भी बीमा कराया था। इन सभी पॉलिसी में पिता राजेंद्र राव ही नॉमिनी हैं। आरोपी व सहयोगी पर मामला दर्ज कर लिया गया है।

Next Story
Share it
Top