Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कांग्रेस में शोक की लहर, सांसद मौलाना असरारुल हक कासमी का निधन

कांग्रेस सांसद मौलाना असरारुल हक कासमी का शुक्रवार को यहां उनके पैतृक गांव में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। कासमी के परिवार के सदस्यों ने यह जानकारी दी। वह 76 वर्ष के थे। उनके परिवार में दो बेटे और तीन बेटियां हैं।

कांग्रेस में शोक की लहर, सांसद मौलाना असरारुल हक कासमी का निधन

कांग्रेस सांसद मौलाना असरारुल हक कासमी का शुक्रवार को यहां उनके पैतृक गांव में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। कासमी के परिवार के सदस्यों ने यह जानकारी दी।

वह 76 वर्ष के थे। उनके परिवार में दो बेटे और तीन बेटियां हैं। जमीयत उलेमा-ए-हिंद के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष एवं ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य कासमी पहली बार 2009 में किशनगंज सीट से लोकसभा चुनाव जीते थे।

2014 के चुनाव में भी उन्होंने यहां अपनी जीत बरकरार रखी। कासमी के निधन पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने शोक संदेश में कहा कि कासमी को राजनीति में उनकी शुचिता तथा दिल की सादगी के लिए जाना जाता था।

यह भी पढ़ें- केंद्रीय मंत्री, बिजनेसमैन और भाजपा के संकट मोचक... ऐसे हैं नितिन गडकरी..

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मौलाना असरारुल हक कासमी के निधन पर शोक जताया है। असरारुल हक कासमी सामाजिक कार्यों में गहरी रुचि रखते थे और अपने संसदीय क्षेत्र में काफी लोकप्रिय थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने किशनगंज में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय का विस्तार पटल खोलने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि कासमी का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा।

राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद ने अपने करीबी नेता भोला यादव के माध्यम से शोक संदेश जारी किया और कहा कि कासमी के निधन से बिहार ने एक सक्षम और समर्पित सांसद खो दिया है।

Next Story
Share it
Top