Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिहार में दोहरी संकट की मार, चमकी बुखार का दौर फिर से शुरू

बिहार में दोहरी संकट का मार शुरू हो गया। एक तरफ कोरोना से प्रभावित है तो दूसरी तरफ एक बार फिर से चमकी बुखार का आगमन शुरू हो गया।

मुजफ्फरपुर:  चमकी बुखार से अबतक 131 बच्चों की मौत, लीची को लेकर बड़ा खुलासा
X
Chamki Fever death toll due to Acute Encephalitis Syndrome rises to 131 in Muzaffarpur

बिहार में दोहरी संकट का मार शुरू हो गया। एक तरफ जहां पूरे देश कोरोना से प्रभावित है, वहीं बिहार में एक बार फिर से चमकी बुखार का आगमन शुरू हो गया। गर्मी और बारिश के बीच बिहार में चमकी बुखार का दौर देखने को मिल रहा है।

बिहार के मोतिहारी की एक बच्ची एसकेएमसीएच के पीआईसीयू में भर्ती किया गया। देखते- देखते चमकी बुखार पीड़ित बच्चों की संख्या बढ़ता ही जा रहा है। चमकी बुखार की शुरुआत सकरा से हुई। जिसके बाद फकुली, मोतिहारी तक पहुंच चुका हैा।

मिली जानकारी के मुताबिक पीड़ित बच्चों को देखने के लिए शनिवार रात डीएम, डीडीसी समेत कई अधिकारी एसकेएमसीएच पहुंचे। पीड़ित परिजनों से बातचीत की। जिला प्रशासन ने बताया कि बच्चों की बेहतर इलाज के लिए हर सविधा उपलब्ध कराया जाएगा।

साथ ही कोरोना को देखते हुए भी सभी तरह की सावधानियां बरती जा रही है। डीएम ने बताया कि एसकेएमसीएच में 100 बेड के पीआईसीयू वार्ड का निर्माण लॉकडाउन के चलते रोक दिया गया था। लेकिन चमकी बुखार को देखते हुए इस वार्ड को बनाने का आदेश दे दिया गया। एसकेएमसीएच में चमकी बुखार से जुड़े सभी संसाधन उपलब्ध हैं।

Priyanka Kumari

Priyanka Kumari

Jr. Sub Editor


Next Story