Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भाजपा प्रवक्ता प्रेम रंजन का राजद पर हमला, बोले- लालू की पार्टी डूबती नाव है कोई नहीं सवार होना चाहता

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की पार्टी जनता दल यूनाइटेड (JDU) को पीएम मोदी की मंत्रालय (PM Modi Cabinet) में जगह न मिलने के बाद से ही बिहार की सियासत में गरमाहट आ गई है। महागठबंधन 'नाराज' नीतीश को साधने का हर प्रयास कर रही है। लगातार महागठबंधन में फिर से शामिल होने का न्योता नीतीश कुमार को मिल रहा है। भाजपा पर लगातार हमले हो रहे हैं।

भाजपा प्रवक्ता प्रेम रंजन का राजद पर हमला, बोले- लालू की पार्टी डूबती नाव है कोई नहीं सवार होना चाहता

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की पार्टी जनता दल यूनाइटेड (JDU) को पीएम मोदी की मंत्रालय (PM Modi Cabinet) में जगह न मिलने के बाद से ही बिहार की सियासत में गरमाहट आ गई है। महागठबंधन 'नाराज' नीतीश को साधने का हर प्रयास कर रही है। लगातार महागठबंधन में फिर से शामिल होने का न्योता नीतीश कुमार को मिल रहा है। भाजपा पर लगातार हमले हो रहे हैं।

इसी बीच भाजपा प्रवक्ता प्रेम रंजन ने कहा है कि राजद को महागठबंधन टूटने का भय सता रहे है इसीलिए वे लगातार दूसरी पार्टियों में भ्रम का माहौल बना रहे हैं। आरजेडी पर हमला करते हुए कहा है कि लालू की पार्टी इस समय डूबती नाव की तरह हो गई है इसलिए इस पार्टी की नैया पर कोई सवार नहीं होना चाहता।

राजद ने दिया था नीतीश को आमंत्रण

बता दें कि राजद के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह (Raghuvansh Prasad Singh) ने उनके समर्थन में कहा था कि हम नीतीश जी को जानते हैं वे निश्चित रूप से अपना पक्ष बदलेंगे लेकिन इस बारे में कोई भविष्यवाणी नहीं की जा सकती है कि वे ऐसा कब करेंगे और क्या कहेंगे। उन्होंने कहा था कि मैं चाहता हूं कि सभी को एक होकर भाजपा के खिलाफ आना चाहिए।

रालोसपा का भाजपा पर तंज

वहीं रालोसपा के चीफ उपेंद्र कुशवाहा ने कहा था कि मैं भाजपा को बताना चाहता हूं कि नीतीश कुमार जनता के जनादेश का अपमान करने के लिए जाने जाते हैं। गठबंधन सहयोगियों को धोखा देना उनकी पुरानी आदत है। इसलिए भाजपा नीतीश द्वारा धोखा नंबर-2 देखने के लिए तैयार रहे। कुशवाहा (RLSP Chief Upendra Kushwaha) ने आगे बोला था कि नीतीश जी के बारे में एक कहावत है, ऐसा कोई सगा नहीं जिनको नीतीश ने ठगा नहीं।

नीतीश ने क्या कहा

हालांकि नीतीश ने स्पष्ट किया है कि अगले साल विधानसभा चुनाव है और इस बात का असर भाजपा के साथ मौजूदा गठबंधन पर बिल्कुल नहीं पड़ेगा। सीएम ने कहा कि उन्होंने पार्टी के सभी नेताओं के साथ बैठक की थी और उनसे पूछा की कोई मंत्रिमंडल में शामिल होना चाहेगा तो उन्होंने साफ तौर पर मना कर दिया था कि वे सांकेतिक भागीदारी में शामिल नहीं होंगे। नीतीश ने यह भी कहा है कि आगे भी हम मोदी के मंत्रिमंडल में शामिल नहीं होंगे।

Next Story
Top