Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बिहार: देखते ही देखते मच गई भगदड़ और चली गई 4 लोगों की जान, ये है हादसे की पूरी कहानी

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मृतकों के परिजन को 4-4 लाख की सहायता देने की घोषणा की है।

बिहार: देखते ही देखते मच गई भगदड़ और चली गई 4 लोगों की जान, ये है हादसे की पूरी कहानी

बिहार के बेगूसराय जिले में सिमरिया में कार्तिक पूर्णिमा स्नान के दौरान हुई भगदड़ में तीन महिलाओं सहित चार लोगों के मौत हो गई है।

हादसे के बाद लोगों ने खुद ही बचाव कार्य शुरु कर दिया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मृतकों के परिजन को 4-4 लाख की सहायता देने की घोषणा की है।

कार्तिक पूर्णिमा पर भीड़ ऐसी उमड़ी कि मेला जो 2 किमी में था, वह 5 किमी में फैल गया। करीब साढ़े 6 बजे राजेंद्र पुल के नीचे पूरब में भगदड़ मच गई। इस दौरान तीन महिलाओं की दबने से मौत हो गई।

मुअावजे का ऐलान

मरने वालीं तीनों महिलाएं नालंदा, सीतामढ़ी व दरभंगा की रहने वाली थीं। सरकार ने मृतक के परिजनों को 4-4 लाख रुपए दिए हैं। जबकि महाकुम्भ सेवा समिति ने भी मृतकों के परिजन को 50-50 हजार रुपए देने की घोषणा की है।

हादसे की वजह

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मुख्य घाट की ओर जाने के लिए दो राहें हैं। पहली राह से अधिकतर लोग परिचित हैं, इसलिए लोग 6 फीट चौड़ी राह से होकर भी आ-जा रहे थे।

अनुमान से अधिक भीड़

अनुमान से काफी अधिक भीड़ पहुंची थी। पहले के शाही स्नानों में 3-4 लाख के अनुपात में इस बार 10-15 लाख श्रद्धालु पहुंचे थे। इस कारण भीड़ में पहले एक महिला का दम घुटने से मौत हो गई। इसके बाद उनके पीछे रहीं दो महिलाओं का भी दम घुटने से मौत हो गई।

Next Story
Top