Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खुशखबरी: कम समय में मोटे मुनाफे के लिए इन 5 जगहों पर करें निवेश

दुनिया का हर व्यक्ति चाहता है कि उसका निवेश में जोखिम ना हो और मार्केट की अस्थिरता से मुक्त हो जाए। लेकिन, हर तरह के निवेश में यह संभव नहीं हो पाता है।

खुशखबरी: कम समय में मोटे मुनाफे के लिए इन 5 जगहों पर करें निवेश
X

दुनिया का हर व्यक्ति चाहता है कि उसका निवेश में जोखिम ना हो और मार्केट की अस्थिरता से मुक्त हो जाए। लेकिन, हर तरह के निवेश में यह संभव नहीं हो पाता है, खासकर शेयर बाजार के विषय में बात करें तो।

फिर भी बाजार में निवेश के ऐसे कई साधन पहले से मौजूद हैं, जिनमें निवेश न सिर्फ सेव है, बल्कि बाजार की अस्थिरता से भी उनका अधिक लेना-देना नहीं होता है। सेविंग अकाउंट पर मिलने वाले कम ब्याज की दरों की वजह से लोगों को कुछ ही ऑप्शन की तलाश में रहते है। आइए, हम आपको बताते हैं कि आप बिना जोखिम के निवेश कैसे कर सकते है।

ये भी पढ़े: अब ऐसा WhatsApp का बीटा वर्जन का टेस्टर बनना हुआ आसान, बस फॉलो करें स्टेप्स

डेट फंड्स

लोग डेट फंड्स ट्रेजरी बिल्स, गवर्नमेंट सिक्यॉरिटीज, कॉमर्शियल पेपर्स, बांड और मनी मार्केट इंस्ट्रूमेंट्स में निवेश कर सकते हैं। आईएलएंडएफएस समूह के डिफॉल्ट होने के बाद पैदा हुई दिक्कत के बावजूद मार्केट के विशेषज्ञ लॉन्ग टर्म डेट फंड्स की तुलना में इस तरह के फंड्स में निवेश की सही सलाह देते हैं।

इसके साथ ही, ये फंड्स और दूसरे फंड्स की तुलना में छोटी अवधि के निवेश के लिए काफी सुरक्षित हैं।

लिक्विड फंड्स

अगर इन फंड्स की अवधि की बात करें तो ये ओपन एंड फंड होते हैं, जो कि डेट के साथ मनी मार्केट इंस्ट्रूमेंट्स में निवेश कर सकते हैं। इनकी मै्यूरिटी की अवधि 91 दिनों से कम की है और रिटर्न की बात करें तो इस पर 6.68 प्रतिशत तक मिल सकता है। लोग इन फंड्स में अचानाक आई नकदी को निवेश कर सकते है।

अल्ट्रा शॉर्ट ड्यूरेशन

अगर इस शॉर्ट ड्यूरेशन की अवधि की बात करें तो लोग डेट और मनी मार्केट इंस्ट्रूमेंट्स में निवेश कर सकते हैं और इसके साथ इसकी मैच्यूरिटी की अवधि तीन से छह महीने के बीच ही होती है और औसतन रिटर्न की बात करें तो लोगों को 5.78 प्रतिशत मिलता है। इसके साथ ही इसमें लोग आसानी से इंवेस्ट कर सकते है।

और भी हैं विक्ल्प

फिक्स्ड डिपॉजिट

फिक्सड डिपॉजिट के समय की बात करें तो इसकी कम से कम एक साल होती है और साथ ही अलग-अलग बैंकों की रिटर्न दर एकदम अलग होती है। लोग इस फंड्स में 25 हजार से लेकर 1 लाख रुपए तक जमा करवा सकते है। अगर लोगों की कमाई ब्याज की रकम 10,000 रुपए से ज्यादा है, तो ब्याज 10 प्रतिशत के हिसाब से कटेगा।

रेकरिंग डिपॉजिट

अवधिः सामान्यतः लोग इस डिपॉजिट में छह महीने से लेकर एक साल तक के लिए पैसा जमा करवा सकते है, लेकिन इसे 10 साल तक बढ़ाया जा सकता है। लोग अपनी डिपॉजिट को मैच्योर होने से पहले और बीच में नहीं निकाल सकते है। लोग इसमें 10 रुपए से लेकर लाख रुपए तक जमा करवा सकते है।

ये भी पढ़े: पेट्रोल और डीजल की कीमत हुई कम, अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत हुई कम, जानें आज के दाम

शॉर्ट टर्म फिक्स्ड डिपॉजिट

लोग अपने पैसे इस स्कीम के तहत 7 दिनों से लेकर 12 महीने तक के लिए पैसा जमा करवा सकते है। इसके साथ ही लोगों को इस स्कीम के तहत 3.5 से लेकर 6.75 प्रतिशत का रिटर्न मिलता है। इसमें लोग 100 रुपए तक का निवेश कर सकते है और साथ ही हर बैंकों में अलग अलग निवेश की रकम होती है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story