Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Whatsapp ने फेक न्यूज रोकने के लिए शुरू किया रेडियो अभियान, जानें कितने राज्यों में हो रहा काम

फेक न्यूज और मॉब लिचिंग को रोकने के लिए whatsapp सख्त कदम उठा रहा है, इसके साथ ही इन चीजों को रोकने के लिए कई नए अभियानों की घोषणा भी की है। फेक न्यूज पर लगाम लगाने के लिए व्हॉट्सएप ने बुधवार को अपने रेडियो अभियान को बढ़ाया है।

Whatsapp ने फेक न्यूज रोकने के लिए शुरू किया रेडियो अभियान, जानें कितने राज्यों में हो रहा काम
X

फेक न्यूज और मॉब लिचिंग को रोकने के लिए Whatsapp सख्त कदम उठा रहा है, इसके साथ ही इन चीजों को रोकने के लिए कई नए अभयान की घोषणा भी की है। फेक न्यूज पर लगाम लगाने के लिए व्हॉट्सएप ने बुधवार को अपने रेडियो अभियान को बढ़ाया है और साथ ही 10 राज्यों में इसको फैलाने का ऐलान किया है।

इन 10 राज्यों में महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश के साथ बंगाल शामिल है। इसके साथ ही व्हॉट्सएप को सरकार की तरफ से कड़ी आलोचनाओं का सामना भी करना पड़ा है। इन खबरों की वजह से एक व्यक्ति भीड़ ने पिटाई कर दी थी, जिसकी कारण उसकी मृत्यू हो गई थी।

ये भी पढ़े: Jio ने 2 साल किए पूरे, डिजिटल इंडिया का सपना किया पूरा, जानें पूरी कहानी

Whatsapp ने अपने पहले रेडियो अभियान की शुरूआत 29 अगस्त को की थी और उसमें सिर्फ 7 राज्य शामिल थे। इस अभियान के रिचर्स से कहा गया था कि उन्हें मिली जानकारी को आगे लोगों से शेयर करने से पहले उसकी सच्चाई का पता लगाए। इन राज्यों में बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश,छत्तीसगढ़, राजस्थान और उत्तर प्रदेश शामिल थे।

इसके साथ ही व्हॉट्एप का दूसरे चरण का रेडियो अभियान 5 सितंबर से शुरू हो चुका है। इसके साथ ही ऑल इंडिया रेडियो स्टेशन की तरफ से रेडियो विज्ञापन पेश किए जाएंगे। साथ ही इन राज्यों में असम, त्रिपुरा, पश्चिम बंगाल, गुजरात, कर्नाटक, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना, ओड़िशा और तमिलनाडु शामिल है।

ये भी पढ़े: Xiaomi के Redmi 6A, Redmi 6 और Redmi 6 Pro भारत में लॉन्च, जानें इसकी कीमत और स्पेसिफिकेशन

बता दें कि व्हॉटसएप का यह अभियान 8 भाषाओं में शुरू होगा, जिसमें बांग्ला, गुजराती, कन्नड़, मराठी, तेलुगू, उड़िया के साथ तमिल शामिल है। वहीं यह अभियान 15 दिनों तक चलेगा। कंपनी की तरफ से यह कहा गया है कि इस अभियान लोग आसानी से समझ सकते है और साथ ही इसके जरिए रिसचर्स गलत जानकारी को पकड़ सकते है। इसके साथ ही इस अभियान में फेक न्यूज की चुनौती के बारे में भी बताया जाएगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story