Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

एक बार फिर डॉलर के मुकाबले रुपए में आई गिरावट, 150 अंक गिरा सेंसेक्स

आज की बात करें तो डॉलर के मुकाबले रुपए के रेट की बात करें तो आज रुपया एक बार फिर 74 रुपए के करीब पहुच गया है। इसके साथ ही शेयर बाजार के सेंसेक्स में 150 अंक गिरावट आई है।

एक बार फिर डॉलर के मुकाबले रुपए में आई गिरावट, 150 अंक गिरा सेंसेक्स
X

शेयर बाजार सोमवार से लगातार गिरावट जारी है। सेंसेक्स में 150 अंक गिरावट आई है, साथ ही निफ्टी में भी गिरावट देखने को मिली है। वहीं सेंसेक्स 172 अंक की गिरावट के साथ 33,962 के स्तर पर है और निफ्टी 79 अंक गिरकर 10,166 के स्तर पर है।

ये भी पढ़े: Google Assistant करेगा Airtel कस्टमर केयर से बात, यूजर्स को होगा फायदा, जानें इसके बारे में

शेयर बाजारों में सोमवार को लगातार तीसरे कारोबारी सत्र में गिरावट रही और सेंसेक्स अखिरी दौर में बिकवाली दबाव में शुरुआती लाभ गंवा कर 181 अंक टूट गया। मुख्य रूप से वित्त और ऊर्जा क्षेत्र की कंपनियों के शेयरों में बिकवाली देखी गई।

निवेशक बाजार में नकदी की चिंताओं के साथ-साथ कंपनियों के तिमाही परिणामों के शुरूआत रुझान मिला-जुला रहने से थोड़े सतर्क नजर आए। इसके अलावा अंतराष्ट्रीय बाजार में खनिज कच्चा तेल के भाव फिर चढ़ कर 80 डालर के ऊपर पहुंच जाने से भी शेयरों के प्रति धारणा प्रभावित हुई।

तीस शेयरों वाला सेंसेक्स कारोबार के अंतिम एक घंटे में बिकवाली से एक समय यह टूट कर नीचे में 34,082.76 तक चला गया था। सेंसेक्स अंत में 181.25 अंक या 0.53 प्रतिशत की गिरावट के साथ 34,134.38 अंक पर बंद हुआ।

नकदी की चिंता और कमजोर वैश्विक रुख के बीच पिछले दो सत्रों में सेंसेक्स 847 अंक टूटा। इसी प्रकार, नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी 58.30 अंक या 0.57 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,245.25 अंक पर बंद हुआ।

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज ने कहा,‘मझोली एवं छोटी कंपनियों के शेयरों का प्रदर्शन कमजोर रहा जबकि सूचकांक में अच्छी हिस्सेदारी रखने वाली कंपनियों के तिमाही परिणाम मिले-जुले रहने से निवेशकों का मनोबल प्रभावित हुआ है-।’

नकदी की तंगी से धारणा बदली

कारोबारियों के अनुसार आरबीआई के उपायों के बावजूद नकदी की मौजूदा तंग स्थिति तथा कच्चे तेल के दाम में तेजी जैसे वृहत आर्थिक चिंताओं के कारण धारणा कमजोर बनी हुई है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड फिर 80 डालर प्रति बैरल की सीमा को लांघते हुए 80.14 तक चला गया।

ये भी पढ़े: Whatsapp टच आइडी और फेसआईडी फीचर को जल्द करेगा पेश, ऐसे करेगा काम

इंडस इंड बैंक सर्वाधिक प्रभावित

शुरूआती कारोबार में यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी तेजी दर्ज की गयी। तेल एवं गैस, उपभोक्ता टिकाऊ, लोक उपक्रम, आईटी तथा बुनियादी ढांचा कंपनियों के शेयरों की बिकवाली देखी गई जिससे शेयर बाजार नीचे आए। सेंसेक्स के 30 शेयरों में से इंडस इंड बैंक सर्वाधिक प्रभावित हुआ। बैंक का शेयर 8.52 प्रतिशत नीचे आया वहीं रिलायंस इंडस्ट्रीज 3.56 प्रतिशत टूटा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story