Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सावधान! स्मार्टफोन के बारे में फेलती हैं ये झूठी बातें, जानें क्या है सच्चाई

आज के समय में ज्यादातर लोग स्मार्टफोन्स इस्तेमाल करते हैं, इसके साथ ही सभी लोग अपने सारे काम अपने फोन पर ही करते है। ऐसे में कई तरह के बाते हैं जिनको हम सच मानते है, जिसमें फोन को रात में चार्ज नहीं करना चाहिए, ज्यादा मेगापिक्सल का कैमरा ज्यादा बेहतर है इस तरह की बाते शामिल है।

सावधान! स्मार्टफोन के बारे में फेलती हैं ये झूठी बातें, जानें क्या है सच्चाई
X

आज के समय में ज्यादातर लोग स्मार्टफोन्स इस्तेमाल करते हैं, इसके साथ ही सभी लोग अपने सारे काम अपने फोन पर ही करते है। ऐसे में कई तरह के बाते हैं जिनको हम सच मानते है, जिसमें फोन को रात में चार्ज नहीं करना चाहिए, ज्यादा मेगापिक्सल का कैमरा ज्यादा बेहतर है इस तरह की बाते शामिल है।

आज हम आपको स्मार्टफोन से जुड़ी ऐसी बातों की जानकारी देंगे, जिनको आप सच मानते है। आइए जानते हैं इनके बारे में....

ये भी पढ़े: Airtel ने 4G की स्पीड के मामले में हैं टॉप, जियो को छोड़ा बहुत पीछे, जानें अन्य कंपनियों की रैंकिंग

Battery

स्मार्टफोन की बैटरी के बारे में ये बाते झुठी है, जिसमें स्मार्टफोन को तभी चार्ज करना चाहिए जब उसकी बैटरी पूरी तरह खत्म हो जाए और जब नया स्मार्टफोन खरीदे तो उसे पूरी तरह चार्ज करना चाहिए।

Camera

कई लोग कहते हैं कि ज्यादा कैमरे वाले स्मार्टफोन्स के कैमरे बेहतर होते है और उनसे क्लिक की गई फोटो बहुत अच्छी आती है। लेकिन सच्चाई यह हैं कि फोटो की क्वालिटी कैमरे पर नहीं बल्कि अपर्चर जैसी चीजों पर निर्भर करती है। शानदार फोटो के लिए मेगापिक्सल के साथ अपर्चर जैसी चीजें भी निर्भर करती है।

Brightness

आज के समय में ज्यादातर स्मार्टफोन्स में ऑटो ब्राइटनेस का फीचर आता है, जिसको लोग अपने हिसाब से चुन सकते है। वहीं दूसरी तरफ कुछ लोगों का मानना हैं कि इस फीचर से फोन की बैटरी ज्यादा खर्च होती है, लेकिन यह सच नहीं है।

Night Charging

ज्यादातर लोग मानते हैं कि रात सोते वक्त फोन चार्ज नहीं करना चाहिए, क्योंकि इससे नुकसान भी हो सकता है और फोन की बैटरी भी खराब हो सकती है। लेकिन सच्चाई यह हैं कि फोन की बैटरी फुल चार्ज होने के बाद चार्जर अपने आप बंद हो जाता है।

ये भी पढ़े: अपने गुम हुए एंड्रोइड फोन को एंड्रोइड डिवाइस मैनेजर से खोजना हुआ आसान, जानें कैसे

Background Apps

दुनिया के ज्यादातर लोग मानते हैं कि बैकग्राउंड में ऐप अपने आप चलते हैं, तो उनकी वजह से फोन की बैटरी जल्दी ही खत्म हो जाती है और फोन भी हैंग हो जाता है। लेकिन इससे लोगों को दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा, क्योंकि बैकग्राउंड में चल रहे है ऐप तेजी से ओपन होते है और साथ ही इन ऐप्स की मदद से फोन हैंग भी नहीं होता है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story