Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ये है Lic की टॉप पॉलिसी, 1 हजार के निवेश पर मिलेंगे 1 करोड़, ऐसे उठाएं लाभ

Life Insurance Corporation (LIC) एलआईसी ने सबसे बेस्ट जीवन प्रगति प्लान (Jeevan Pragati Plan) को पेश किया है, एलआईसी की जीवन प्रगति पॉलिसी (LIC Jeevan Pragati Policy) में 1 हजार रुपए भुगतान के साथ 1 करोड़ का लाभ मिलेगा, जीवन प्रगति में लोगों को डेथ , मैच्योरिटी, दुर्घटना और दिव्यांग राइडर का लाभ मिलेगा। आईए जानते हैं इस स्कीम के बारे में...

Life Insurance Corporation Jeevan Pragati Plan In HindiLife Insurance Corporation Jeevan Pragati Plan In Hindi

भारत (India) की सबसे बड़ी बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम एलआईसी (LIC) लोगों के हित में कई पॉलिसी प्लान लॉन्च करती है, जिसके चलते लोग अपनी कमाई के कुछ हिस्से को सेविंग के ऑप्शन में निवेश कर रहे हैं। (LIC) ने लोगों के लिए सेविंग पॉलिसी एलआीसी जीवन प्रगति प्लान (LIC Jeevan Pragati Plan) को पेश किया है। इस योजना के जरिए लोग अपने भविष्य में आने वाली जरूरतों के लिए पैसा जमा कर सकते हैं। लोग अपनी कमाई के एक हिस्से को जीवन प्रगति (Jeevan Pragati) में निवेश कर सेविंग कर सकते हैं। इस स्कीम से लोगों को लंबे समय के लिए वित्तीय सुरक्षा का कवर मिलेगा और साथ ही लोन की सुविधा मिलेगी। आइए जानते हैं एलआईसी की जीवन प्रगति पॉलिसी के बारे में...


संभंधित खंबर: LIC की इस पॉलिसी में सिर्फ 9 रुपए में मिलेंगे 4.56 लाख

जीवन प्रगति हिंदी (LIC Jeevan Pragati Plan In Hindi)

एलआईसी की जीवन प्रगति योजना एक एंडोमेंट प्लान है। इस पॉलिसी के तहत पॉलिसीधारक सेविंग समेत रिस्क कवर प्राप्त कर सकते है। जीवन प्रगति में पॉलिसीधारक अपने हिसाब से प्रीमियम का भुगतान कर सकते हैं और इसके बदले उन्हें एक तय रकम यानी सम एश्योर्ड मिलेगा। अब सरकार ने इस पॉलिसी की समय सीमा को 5 वर्ष तक बढ़ा दिया है। इस स्कीम की खासियत की बात करें तो पॉलिसीधारक हादसे में मौत का फायदा और दिव्यांग राइडर का लाभ उठा सकते हैं।

जीवन प्रगति से होने वाले लाभ (LIC Jeevan Pragati Benefits)

मैच्योरिटी का लाभ (यदि पॉलिसीधारक योजना के समय तक जीवित रहता है)

जीवन प्रगति के मैच्योरिटी के समय पॉलिसीधारक को बेसिक सम एश्योर्ड + सिंपल रिवर्सनरी बोनस + एडिशनल बोनस मिलेगा।

डेथ का लाभ (यदि पॉलिसीधारक की योजना के समय मौत हो जाती है)

यदि पॉलिसीधारक की स्कीम के दौरान मृत्यु हो जाती है, तो उसके नॉमिनी को बीमित राशि दी जाएगी। इसमें नॉमिनी को डेथ सम एश्योर्ड + सिंपल रिवर्सनरी बोनस + एडिशनल बोनस दिया जाएगा।

LIC Jeevan Pragati PDF Download LIC Jeevan Pragati Premium Calculator LIC Jeevan Pragati Details



जीवन प्रगति ऑप्शन राइडर

पॉलिसीधारक को जीवन प्रगति योजना में दुर्घटना में मृत्यु और दिव्यांग राइडर का लाभ मिलेगा। लेकिन ध्यान रखना होगा कि राइडर सम एश्योर्ड बीमित राशि से ज्यादा नहीं होना चाहिए। यदि आप इस पॉलिसी के बारे में ज्यादा जानना चाहते हैं, तो आप इस लिंक पर जाकर जानकारी जान सकते हैं।

सम्बंधित खबर: आजीवन पेंशन के लिए LIC की सबसे बेस्ट जीवन शांति पॉलिसी

जीवन प्रगति के की-फीचर्स (Jeevan Pragati Key Features)

1. पॉलिसीधारक जीवन प्रगति में 1,50,000 लाख और इससे ऊपर की राशि का सम एश्योर्ड करावा सकते हैं।

2. जीवन प्रगति पॉलिसी में 65 वर्ष के बाद मैच्योर होगी।

3. 18 वर्ष के व्यक्ति इस स्कीम को खरीद सकते हैं।

4. पॉलिसीधारकों को धारा 10डी के तहत प्रीमियम के भुगतान पर टैक्स में छूट दी जाएगी।

5. पॉलिसीधारक योजना को सरेंडर यानी वापस तीन साल प्रीमियम भरने के बाद सकते हैं।

6. पॉलिसीधारक को 10 हजार रुपए तक का दुर्घटना लाभ मिलेगा। अधिकतम 1 करोड़ रुपए का फायदा मिल सकता है।


जीवन प्रगति के लिए योग्यता (Jeevan Pragati Eligibility Criteria)

1. इस योजना में 18 से लेकर 45 वर्ष के व्यक्ति पॉलिसी के आवेदन कर सकते हैं।

2. जीवन प्रगति की अवधि 12 से लेकर 20 वर्ष है।

3. यह योजना 65 वर्ष के बाद मैच्योर हो जाएगा।

4. कम से कम 1,50,000 लाख रुपए का बीमा करवाया जा सकता है।

सम्बंधित खबर: LIC की सबसे बेस्ट पॉलिसी, 206 रुपए में उठा सकते हैं 27 लाख रुपए का लाभ

जीवन प्रगति के लिए जरूरी दस्तावेज (Jeevan Pragati Documents)

1. आधार कार्ड

2. पैन कार्ड

3. सैलरी स्लिप्स

4. बैंक स्टेटमेंट

5. बिजली का बिल

जीवन प्रगति का प्रीमियम नहीं भरने पर क्या होगा ? (lic jeevan pragati premium)

1. यदि पॉलिसीधारक किसी कारणवश पॉलिसी का भुगतान नहीं करता है, तो आपकी पॉलिसी को बंद कर दिया जाएगा। इसके साथ ही पॉलिसीधारक स्कीम को 3 वर्ष के बाद ही सरेंडर कर सकते हैं। यदि आपने इस दौरान सारे प्रीमियम भरे हैं और योजना को वापस करते हैं। तो इस स्थिति में आपको प्रीमियम का पैसा नहीं मिलेगा।

2. अगर पॉलिसीधारक को स्कीम पसंद नहीं आती है, तो उसके वापस किया जा सकता है। लेकिन ध्यान रखें कि पॉलिसी को सरेंडर तीन साल के बाद किया जा सकता है।

3. पॉलिसीधारक 15 दिन के अंदर ही पॉलिसी को सरेंडर कर सकते हैं। इसमें पॉलिसीधारक को भरे गए प्रीमियम को स्टैम्प चार्ज को काट कर वापस कर दिया जाएगा।

Next Story
Share it
Top