Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सरकार की इस स्कीम में निवेश से 21 वर्ष में करोड़पति बन जाएगी बेटी, पिता को करना होगा बस यह काम

हर माह निवेश करना होगा जरूरी। सालाना 1 50 लाख रुपये तक निवेश करने से ही बन जाएगा बड़ा अमाउंट, टैक्स पर भी मिलेगी छूट

सरकार की इस स्कीम में निवेश से 21 वर्ष में करोड़पति बन जाएगी बेटी, पिता को करना होगा बस यह काम
X

माता पिता को बेटी के भविष्य से लेकर उसकी शादी की सबसे ज्यादा चिंता होती है। हर कोई बेटी को अच्छा पढ़ा लिखा कर उसकी शादी भी धूम धाम से करना चाहता है, लेकिन कई बार इसमें पैसे की अड़चन आ जाती है। इसी को देखते हुए केंद्र सरकार ने बेटी के लिए (Sukanya Samriddhi Yojana) सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत की है। इसमें निवेश करने से माता पिता की चिंता कम होने के साथ ही बेटी के 21 वर्ष तक की होने पर करोड़पति बन सकती है। जिसे मां बाप की की चिंता खत्म होने के साथ ही निवेश भी पूरी तरह से सुरक्षित रहता है। सरकार की यह स्कीम बेटियों के लिए सबसे अधिक पसंद की जाने वाली (Long Term Investment) लॉन्ग टर्म सुरक्षित निवेश है। इस स्कीम को सरकार ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कैंपेन के हिस्से के रूप में ही शुरू किया था। जो इसमें निवेश करने पर जमा मूलधन पर चक्रवृद्धि ब्याज लगता है। जिस से रुपया तेजी से दो से तीन गुना होने की तरफ बढ़ता है। इसके साथ ही स्कीम तहत बेटी के 21 साल के होने पर ही यह स्कीम पूरी होती है।

सुकन्या समृद्धि योजना पर मिलता है सबसे ज्यादा ब्याज

दरअसल, सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) में बच्ची के जन्म से ही निवेश कर सकते हैं। इसमें जितना ज्यादा निवेश करेंगे उतना ज्यादा फायदा होगा। निवेश एक साल से 21 साल तक शुरू कर सकते हैं। अगर आपकी बेटी एक से दस साल के बीच हो गई है। तब भी इसे शुरू किया जा सकता है। जिसमें हर माह कम से कम 1000 हजार रुपये और अधिक से अधिक साल में 150000 लाख रुपये जमा करा सकते हैं। इस योजना (Investment Scheme) पर सरकार ने शुरुआत में 9 प्रतिशत का ब्याज दर रखी थी। हालांकि इस समय यह ब्याज दर 7.6 प्रतिशत है। यह ब्याज दर अभी भी सरकार के अन्य (Fund) फंड के मुकाबले सबसे ज्यादा है। सरकार द्वारा इस योजना पर ब्याज दर को हर तीन महीने के लिए तय किया जाता है। जो सालाना के हिसाब से अकाउंट में अपडेट होता है। यानि जमा मूलधन पर सालाना के हिसाब से अपने आप ब्याज लग जाता है। धीरे धीरे चक्रवृद्धि ब्याज दर के साथ यह रुपया बढ़ता है।

ऐसे लगा सकते हैं SSY में निवेश का हिसाब

सुकन्या समृद्धि योजना में पिता अपनी बेटी की एक साल की आयु होने पर (Sukanya Samriddhi Yojana Account) सुकन्या समृद्धि योजना खाते में हर माह 12,500 रुपये जमा करता है। यानि साल के 1.50 लाख रुपये, तो SSY कैलकुलेटर के हिसाब से बेटी के 21 साल की होने पर कुल मैच्योरिटी राशि 63.73 लाख रुपये हो जाएगी। इस निवेश में कुल जमा राशि 22.5 लाख रुपये है। जबकि ब्याज आय 41.29 लाख रुपये होगी। वहीं, अगर माता और पिता दोनों ही बेटी के लिए निवेश करें, तो 21 साल की उम्र होने तक उनकी कुल मैच्योरिटी राशि 1.27 करोड़ रुपये तक पहुंच सकती है।

खाते में कभी भी डाल सकते हैं रुपये

सुकन्या समृद्धि योजना में कम से कम डिपॉजिट राशि 250 रुपये है। इसके साथ ही आप इस खाते में कभी भी रुपये जमा करा सकते हैं। यानि साल में 12 महीनों के बीच में कभी भी। या फिर साल के अंत या शुरू में भी। निवेश अपने माह और कमाई के हिसाब से करा सकते हैं। इसके साथ ही इसमें निवेश कराने पर आपको टैक्स पर छूट भी मिलती है। इस खाते में सालाना 1.5 लाख रुपये तक का निवेश कर सकते हैं। इसके साथ ही बेटी के 21 वर्ष में मिलने वाली ब्याज आय निकासी और मैच्योरिटी राशि भी इस योजना में टैक्स फ्री ही होती है।

Next Story