Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Idea को हुआ तीन गुना नुकसान, लगातार 6 तिमाही से हो रहा है घाटा

दूरसंचार कंपनी आइडिया सेल्यूलर का शुद्ध घाटा 2017-18 की चौथी तिमाही में लगभग तिगुना होकर 930.6 करोड़ रुपये हो गया। इस तरह से कंपनी के लिए घाटे का क्रम लगातार छठी तिमाही में भी बना रहा।

Idea को हुआ तीन गुना नुकसान, लगातार 6 तिमाही से हो रहा है घाटा
X

दूरसंचार कंपनी आइडिया सेल्यूलर का शुद्ध घाटा 2017-18 की चौथी तिमाही में लगभग तिगुना होकर 930.6 करोड़ रुपये हो गया। इस तरह से कंपनी के लिए घाटे का क्रम लगातार छठी तिमाही में भी बना रहा।

कंपनी को एक साल पहले इसी तिमाही में 325.6 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था। कंपनी को अक्तूबर-दिसंबर 2016 की तिमाही में पहली बार 383.87 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था।

यह भी पढ़ें- ई-कामर्स व खुदरा कारोबार की एफडीआई नीतियों में हो समानता: भारती

बीते वित्त वर्ष की मार्च तिमाही में कंपनी का परिचालन कारोबार भी 24.47 प्रतिशत घटकर 6,137.3 करोड़ रुपये रह गया। वहीं समूचे वित्त वर्ष 2017-18 के लिए घाटा बढ़कर 4,139.9 करोड़ रुपये हो गया जो कि 2016-17 में 404 करोड़ रुपये था।

पूरे साल के दौरान कंपनी की परिचालन आय घटकर 28,278.9 करोड़ रुपये रह गई जो कि पूर्व वित्त वर्ष में 36,676.8 करोड़ रुपये रही थी। कंपनी ने अपने वित्तीय निष्पादन में इस गिरावट के लिए कडी प्रतिस्पर्धा व नियामकीय बाधाओं को जिम्मेदार ठहराया है।

इसके साथ ही उसने उम्मीद जताई है कि वोडाफोन के साथ उसका विलय सौदा जून 2018 तक सिरे चढ़ जाएगा। कंपनी पर 31 मार्च 2018 तक 52,330 करोड़ रुपये का शुद्ध कर्ज था। कंपनी के डेटा और वायस ट्रैफिक में वृद्धि के बावजूद कंपनी का प्रति उपयोगकर्ता राजस्व में 26 प्रतिशत की गिरावट आई है।

यह भी पढ़ें- Vivo V7 Plus Red पर मिल रही है 2440 की छूट, मनीष मल्होत्रा ने किया डिजाईन, जानिए इसके सारे स्पेसिफिकेशन

उसकी औसत प्रति उपयोगकर्ता राजस्व एक साल पहले 142 रुपये से घटकर 105 रुपये रह गया। कंपनी को उम्मीद है कि इंडस टावर्स में उसकी हिस्सेदारी बिकने और उसकी अपनी मोबाइल टावरों की अमेरिका टावर कार्पेारेशन को बिक्री से उसका कर्ज काफी कम हो जायेगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story