Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

इन चीज़ों को भूलकर भी Google पर ना करें सर्च, नहीं तो होगा बहुत नुकसान

आमतौर पर लोग एक गूगल (Google) पर एक क्लिक करके दुनिया में मौजूद हर क्षेत्र की जानकारी को जाना जा सकता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि कुछ चीजों को गूगल के सर्च इंजन पर ढूंढने से आप मुश्किल में फंस सकते हैं। ऐसे में आज हम आपको उन खास चीजों के बारे में बता रहे हैं, जो आपके लिए परेशानी का सबब बन सकती हैं।

इन चीज़ों को भूलकर भी Google पर ना करें सर्च, नहीं तो होगा बहुत नुकसान

तकनीक के दौर में लोग सबसे ज्यादा गूगल (Google) का प्लेटफॉर्म इस्तेमाल करते हैं। स्कूल, कॉलेज से लेकर ऑफिस तक के काम के लिए गूगल का ही उपयोग किया जाता है। गूगल के प्लेटफॉर्म पर दुनिया की हर एक चीज़ की जानकारी मौजूद हैं। लोग गूगल से किसी भी तरह की जानकारी हासिल करते हैं, जिसमें स्मार्टफोन कब लॉन्च होगा, आने वाले त्यौहार कौन से है और आदि शामिल हैं। वैसे तो हर एक चीज के अपने फायदे और नुकसान हैं।

ये भी पढ़ें :- Google दे रहा है यूजर्स को एक लाख रुपए का इनाम जीतने का मौका, एेसे उठाए इसका फायदा

लाभ की बात करें तो गूगल हर एक व्यक्ति के लिए बहुत लाभकारी है, क्योंकि इस पर हम हर एक कार्य से जुड़ी जानकारी को प्राप्त कर सकते हैं। वहीं, गूगल भी अपने यूजर्स के लिए रोचक तत्थ लेकर आता हैं। लेकिन गूगल पर कई ऐसी चीज़ें हैं, जिनको यूजर्स सर्च नहीं कर सकते हैं। आज हम आपको ऐसी चीज़ों की जानकारी देने जा रहे हैं, जिनको सर्च करना लोगों के लिए बुरा साबित हो सकता है। तो चलिए जानते हैं, इन चीज़ों के बारे में...........

भूलकर भी इन चीज़ों गूगल पर ना करें सर्च

1. चाइल्ड पॉर्न

आज समय में गूगल पर कई अश्लील कॉन्टेंट मौजूद हैं, जिनकों 18 वर्ष से कम उम्र के किशोर नहीं देख सकते हैं। लेकिन फिर भी लोग इस तरह की सामग्री तक आसानी से पहुंच जाते हैं। इस कड़ी में चाइल्ड पॉर्न भी आता है। वैसे तो चाइल्ड पॉर्न देखना गैरकानूनी है। यदि कोई व्यक्ति चाइल्ड पॉर्न देखने की कोशिश करता है, उसे जेल हो सकती है। आपको बता दें कि इस काम के लिए बच्चों का अपहरण किया जाता है।


इस पर रोक लगाने के लिए सरकार के साइबर सेल लगातार काम करता रहता है। वहीं, साइबर सेल जिस भी कंप्यूटर से इस तरह के कॉन्टेंट को सर्च किया गया है, उसके आईपी एंड्रेस को निकाल कर उस शख्स तक पहुंचा जा सकता है।

2. बम बनाने का तरीका

दुनिया में आतंकवाद ने अपने पैस पसार लिए है। आए दिन किसी ना किसी देश में आतंकवादी घटनाएं होती रहती हैं। इन पर लगाम लगाने के लिए सरकार लगातार काम कर रही हैं। साथ ही सरकार सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे व्हाट्सएप और फेसबुक पर अतंकवाद से जुड़ी गतिविधियों पर भी पैनी नजर बनाए हुए हैं। लेकिन कई बार लोग गूगल पर बम बनाने की प्रक्रिया खोजते हैं, तो ऐसे लोगों को सावधान हो जाना चाहिए।


क्योंकि सुरक्षा एजेंसियों की आंख गूगल पर होती है। कई लोग प्रेशर कूकर बॉम्ब, हाऊ टू जॉइन आईएसआईएस, हाऊ टू डिरेल अ ट्रेन और हाऊ टू अटैक अ एयरक्राफ्ट जैसे की-वर्ड्स को सर्च करते हैं। यदि आप भी इस तरह की सामग्री को सर्च करते हैं। तो सावधान हो जाए, नहीं तो आप पर कानूनी कार्रवाई हो सकती है। इस वजह से आपको जेल भी हो सकती है।

3. भूलकर भी ना करें अपनी लोकेशन सर्च


वैसे तो सर्च इंजन कंपनी गूगल अपने यूजर्स को अपनी पहचान खोजने की सुविधा देता है। गूगल अपने-आप अपकी लोकेशन, अपना नाम और अपनी पहचान स्टोर कर लेता हैं। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि गूगल सर्च हिस्ट्री का पूरा डाटा अपना पास इक्ट्ठा कर लेता है। इससे आपकी जानकारी लीक भी हो सकती है और आपकी लोकेशन के साथ पहचान भी उजागर हो सकती है। साथ ही थर्ड पार्टी एप आपको लगातार विज्ञापन भेजने भी शुरू कर देंगे।

4. पर्सनल ईमेल ना करें सर्च


अगर आप भी गूगल अपना ई-मेल और पासवर्ड गूगल पर सर्च करते हैं, तो ऐसा करना बंद कर दें। क्योंकि ऐसा करने से आपकी नीजि जानकारी और पासवर्ड लीक हो सकता है। इससे आप धोखा-धड़ी के शिकार हो सकते हैं। इससे बचने के लिए आपको अपनी ई-मेल आईडी का पासवर्ड बदलते रहना होगा।

ये भी पढ़ें :- बदल जाएगा आपका स्मार्टफोन, Android Q का लास्ट एडिशन हुआ रोल आउट, जानें फुल इंफॉर्मेशन

5. स्वास्थ और दवाई से जुड़ी जानकारी ना करें सर्च


अकसर लोग गूगल पर अपनी सेहत और दवाइयों के बारे में जानने के लिए सर्च करते हैं, तो यह डाटा ऑटोमेटिकली थर्ड पार्टी के पास पहुंच जाता है। इसके बाद से ही आपके कंप्यटूर पर उस बीमारी से जुड़े विज्ञापन आने शुरू हो जाते हैं। इसके अलावा आपकी तरफ से सर्च की गई जानकारी हैकर्स अपने लिए इस्तेमाल करते हैं और डाटा को फ्रॉड के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

Next Story
Share it
Top