Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

यूके के PNB को लगा 271 करोड़ का रुपए का चुना, रिकवर के लिए ठोका केस

पंजाब नैशनल बैंक की यूके की सहायक कंपनी ने पांच भारतीयों, एक अमेरिकी और तीन कंपनियों पर केस दर्ज किया है। पीएनबी बैंक ने दावा किया है कि इन लोगों ने बैंक को गुमराह करके करोड़ों रुपए का लोन लिया था।

यूके के PNB को लगा 271 करोड़ का रुपए का चुना, रिकवर के लिए ठोका केस
X

पंजाब नैशनल बैंक की यूके की सहायक कंपनी ने पांच भारतीयों, एक अमेरिकी और तीन कंपनियों पर केस दर्ज किया है। पीएनबी बैंक ने दावा किया है कि इन लोगों ने बैंक को गुमराह करके करोड़ों रुपए का लोन लिया था और इसके साथ ही इन लोगों बैंक का करीब 3.7 करोड़ अमेरिकी डॉलर यानी करीब 271 करोड़ रुपए लोन के रुप में है।

ये भी पढ़े: अपनी फोटो करें टैप, ऐसे आसानी से बनाएं WhatsApp स्टीकर

हाईकोर्ट में बैंक ने इस केस को दर्ज करवा दिया है, इसके साथ ही बैंक ने कहा है कि पीएनबी (इंटरनैशनल) लिमिटेड, जिसकी यूके में कुल सात ब्रांच हैं, इनकी मुख्य कंपनी पीएनबी है, निजी व्यक्तियों और कंपनियों पर केस दर्ज किया है, क्योंकि इन्होंने लोन लेने के लिए झूठ और गलत दस्तावेज जमा करवाए थे।

बैंक ने दावा किया हैं कि ये लोन साउथ कैरोलिना में तेल रिफाइनिंग यूनिट लगाने और एयर एनरजी प्रॉजेक्ट्स के विकास और बेचने के लिए किया है।

बैंक ने अपने दावे में आगे कहा हैं कि लोन लेने के लिए गलत और बढ़ा-चढ़ाकर बैलेंस शीट पेश की गई थी। इसके साथ ही प्रॉजेक्ट्स की स्थिति के बारे में भी गलत सख्या पेश की गई थी। बैंक ने अपने दावे में कहा हैं कि निदेशकों और गारंटीदाताओं की तरफ से दावेदारों के पैसे का गबन किया है।

पीएनबी ने कहा हैं कि यह उसने 2011 और 2014 के बीच इस रकम का भुगतान डॉलरों में अमेरिका में पंजीकृत चार कंपनियों को किया था। यह चारों कंपनियां अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में काम करती थी। इनके नाम साउथ ईस्टर्न पेट्रोलियम एलएलसी (एसईपीएल), पेप्सो बीम यूएसए, त्रिशे विंड ऐंड त्रिशे रिसोर्स हैं।

इन कंपनियों ने बैंक के साथ करीब 17 मिलियन डॉलर का डिफॉल्ट किया है। इसके साथ ही 10 मिलियन पीएनबी और 7 मिलियन बैंक ऑफ बड़ौदा की रकम है। बैंक ने कहा हैं कि एसईपीएल के पास अब कैश की कमी हो सकती है जो कि वह कंपनी अपना बिजनेस समेटने में लगी है।

पेप्सो बीम इनवायरमेंटल सॉलूशन की चेन्नै में फैक्ट्री है और इसके साथ ही अमेरिका के वर्जीनिया में भी एक यूनिट है। यह एसईपीएल की 100 प्रतिशत लाभकारी स्वामी है। पेप्सो यूएसए ने 13 मिलियन डॉलर का डिफॉल्ट किया है।

ये भी पढ़े: Google ने यौन दुर्व्यवहार को लेकर सख्त कार्रवाई का किया वादा, जानें सबकुछ

बैंक की ओर से चेन्नई में रहने वाले पेप्सो बीम ए. सुब्रह्ममण्यम और उनके भाई ऐग्जिक्यूटिव डायरेक्टर अनंतराम शंकर के साथ यूएस सब्सिडरी के सीईओ ल्यूक स्टेनगल पर भी केस दर्ज किया है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story