Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मोबाइल चोरी या गुम हो जाए तो अब घबराने की जरूरत नहीं, सरकार की इस तकनीक से मिलेगा वापस

वर्तमान समय में लगभग हर शख्स के पास बड़ी कीमत के मोबइल फोन हैं। लेकिन कभी- कभी मोबाइल चोरी होने या छिन जाने पर अक्सर लोग मायूस हो जाते हैं। लेकिन अब आपका मोबाइल कोई छिन ''लूट'' या चुरा लेता है तो इसके लिए आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है।

मोबाइल चोरी या गुम हो जाए तो अब घबराने की जरूरत नहीं, सरकार की इस तकनीक से मिलेगा वापस
X

वर्तमान समय में लगभग हर शख्स के पास बड़ी कीमत के मोबइल फोन हैं। लेकिन कभी- कभी मोबाइल चोरी होने या छिन जाने पर अक्सर लोग मायूस हो जाते हैं। लेकिन अब आपका मोबाइल कोई छिन 'लूट' या चुरा लेता है तो इसके लिए आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है।

कई बार ऐसा होता है कि मोबाइल फोने के चोरी हो जाने पर शिकायत दर्ज कराने के लिए उन्हें धक्के खाने पड़ते हैं। लेकिन अब सरकार ने एक हेलप्लाइन नंबर 14422 जारी किया है। इस नंबर पर आप अपने फोन चोरी की शिकायत कर सकते हैं।
आपको बता दें कि इस नंबर 14422 पर डायल करने या संदेश भेजने पर शिकायत दर्ज हो जाएगी और पुलिस व सेवा प्रदाता कंपनी मोबाइल की खोज में जुट जाएगी। खबरो के मुताबिक दूरसंचार मंत्रालय मई के अंत में महाराष्ट्र सर्किल में इसकी शुरुआत करेगा। देश के 21 अन्य दूरसंचार सर्कल में कई चरणों में इसे दिसंबर तक लागू किया जाएगा।

इस तकनीक की ये है खास बात

आपको बता दें कि इस तकनीक के यह खास बात है कि यदि कोई आपका फोन चुराकर सिम कार्ड फेंक देता है या मोबाइल फोन का ईएमईआई नंबर बदल देता है तो तब भी यह सिस्टम फोन को ब्लॉक कर देगा। इससे फोन चोरी होने के बाद भी काम नहीं करेगा।

सिम काम नहीं करेगी

सी-डॉट के अनुसार शिकायत मिलने पर मोबाइल में कोई भी सिम लगाए जाने नेटवर्क नहीं आएंगे और ट्रैकिंग होती रहेगी। लूट और चोरी की घटनाओं को देखते हुए सी-डॉट को दूरसंचार मंत्रालय ने यह मैकनिज्म तैयार करने को कहा था। मंत्रालय के एक सर्वे में सामने आया था कि देश में एक ही आईएमईआई नंबर पर 18 हजार हैंडसेट चल रहे हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story