Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इन 9 सरकारी बैंकों के 10 लाख कर्मचारी करेंगे हड़ताल, जानिए इसके पीछे की वजह

9 बैंकों के करीब 10 लाख से ज्यादा कर्मचारी पूरे भारत में हड़ताल करने जा रहे है। यह हड़ताल विजया बैंक और देना बैंक के साथ बैंक ऑफ बड़ौदा के विलय को लेकर ये सभी निजी और क्षेत्रों के बैंक के कर्मचारी 26 दिसंबर यानी बुधवार को हड़ताल करने जा रहे है।

इन 9 सरकारी बैंकों के 10 लाख कर्मचारी करेंगे हड़ताल, जानिए इसके पीछे की वजह
X

9 बैंकों के करीब 10 लाख से ज्यादा कर्मचारी पूरे भारत में हड़ताल करने जा रहे है। यह हड़ताल विजया बैंक और देना बैंक के साथ बैंक ऑफ बड़ौदा के विलय को लेकर ये सभी निजी और क्षेत्रों के बैंक के कर्मचारी 26 दिसंबर यानी बुधवार को हड़ताल करने जा रहे है।

इससे पहले इन बैंकों की यूनियन ने मांग के साथ वेता वार्ता को जल्द ही खत्म करने की मांग को लेकर हड़ताल की थी। वहीं सितंबर के महीने में सरकार ने विजया बैंक, देना बैंक और बैंक ऑफ बड़ौदा का विलय का ऐलान किया था।

रिपोर्ट से हुआ खुलासा, Facebook WhatsApp के लिए तैयार कर रहा है क्रिप्टोकरेंस, पेमेंट के लिए होंगे इस्तेमाल

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने विजया और देना बैंक जैसे कमजोर बैंक के लिए कुछ पाबंदी लगा रखी है। यूनाइटेड फोरम आफ बैंक यूनियंस (UFBU) ने कहा है कि यह विलय बैंक या बैंक ग्राहकों के फायदे में नहीं हुआ है। हकिकत में इससे दोनों को नुकसान हो सकता है।

UFBU नौ बैंक यूनियनों का संगठन है, जिसमें आल इंडिया बैंक आफिसर्स कन्फेडरेशन, आल इंडिया बैंक एम्पलाइज एसोसिएशन और नेशनल आर्गेनाइजेशन आफ बैंक वर्कर्स आदि यूनिय शामिल हैं।

नेशनल आर्गनाइजेशन आफ बैंक वर्कर्स के उपाध्यक्ष अश्विनी राणा ने कहा है कि 26 दिसंबर को हड़ताल करने जा रहे है। यूनियन का दावा है कि सरकार विलय के जरिए बैंकों का आकार कमार्ई बढ़ाना चाहती है।

अश्विनी राणा ने कहा है कि अगर सभी सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को भी मिलाकर एक बना दिया जाए, तो तब भी दुनिया के 10 सबसे बेस्ट बैंक में नहीं आ पाएगा। 26 दिसंबर के दिन बैंक यूनियन रैली निकालेंगे और दक्षिण मुंबई के आजाद मैदान में विरोध प्रदर्शन भी करेंगे।

भारतीय सरकार का रुख

सुत्रों के अनुसार, इस महीने के अंत तक विजया बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा और देना बैंक के विलय को अंतिम रुप दिया जा सकता है। इसके साथ ही इन तीनों बैंकों के विलय की योजना को संसद में पेश किया जाएगा और यह सत्र 8 जनवरी तक चलेगा।

कॉल ड्राप को लेकर TRAI ने टेलिकॉम कंपनियों पर लगाया 56 लाख का जुर्माना

बता दें कि इसके साथ ही इस योजना पर काम भी चल रहा है। बैंकों के निदेशक मंडल इसकी जांच भी करेंगे। वहीं दूसरी तरफ सरकार को उम्मीद है कि तीनों बैंकों के विलय के बाद आने वाले साल में काम करना शुरू कर देगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story