Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

US ने चीनी मोबाइल कंपनी Huawei पर दर्ज किए 23 केस, फोन की टेक्नोलॉजी चुराने का लगा आरोप

अमेरिका ने चीन की दिग्गज स्मार्टफोन निर्मता कंपनी हुवावे Huawei पर आपराधिक मामले के तहत केस दर्ज किए है। साथ ही अमेरिका ने हुवावे के मुख्य अधिकारी मेंग वानझू के खिलाफ कई के केश दर्ज किए है।

US ने चीनी मोबाइल कंपनी Huawei पर दर्ज किए 23 केस, फोन की टेक्नोलॉजी चुराने का लगा आरोप
X

अमेरिका ने चीन की दिग्गज स्मार्टफोन निर्मता कंपनी हुवावे Huawei पर आपराधिक मामले के तहत केस दर्ज किए है। साथ ही अमेरिका ने हुवावे के मुख्य अधिकारी मेंग वानझू के खिलाफ कई के केश दर्ज किए है।

हुवावे के मुख्य अधिकारी मेंग वानझू पर बैंक जालसाजी, न्याय में रुकावट डालने के साथ अमेरिकी टेलीकॉम कंपनी टी मोबाइल की टेक्नोलॉजी चुराने का आरोप लगा है।

इसके साथ ही चीन की स्मार्टफोन निर्माता कंपनी हुवावे पर अमेरिका ने कुल 23 केस दर्ज किए हैं। लेकिन इस आरोपों को हुवावे और मेंग ने सिरे से खारिज कर दिया है।

रिपोर्ट से हुआ खुलासा, 2018 में सबसे ज्यादा डाउनलोड हुआ Shareit App, जानें पूरी इंर्फोमेशन

वहीं मेंग को बीते माह में ईरान पर लगी पाबंदियों को ना पालन करने पर अमेरिका के कहने पर कनाडा में गिरफ्तार किया गया था। मेंग को वेंकुवर से पुलिस ने अपनी गिरफ्त में किया था।

लेकिन फिर मेंग को मुचलके पर जमानत दे दी गई थी। इस वजह से चीन, अमेरिका और कनाडा के रिश्ते में कडवाहट आई हैं।

हुवावे के आरोप में कहा गया है कि हुवावे ने ईरान में व्यपार करने के लिए अमेरिका के एक वैश्विक बैंक को अपनी दो कंपनियों अमेरिका और स्‍काईकॉम टेक के रिश्तों को गुमराह किया है।

हुवावे पर लगे आरोप में कहा गया है कि कंपनी स्‍मार्टफोन की टिकाऊ क्षमता को जांचने की टेक्नोलॉजी को टी मोबाइल कंपनी से चुराया है।

इंतजार खत्म, ये कंपनी अगले महीने लॉन्च करेगी पहला 5G स्मार्टफोन

हाल की माह में स्मार्टफोन निर्माता कंपनी हुवावे की सुरक्षा को लेकर चिंता जाहिर की है।

बता दें कि Huawei दुनिया की दिग्गज टेलीकॉम और स्मार्टफोन निर्मता कंपनियों में से एक हैं। वहीं हुवावे ने ऐप्पल को पछाड़ कर दुनिया की सबसे बड़ी स्मार्टफोन निर्मता कंपनी बनी थी।

अमेरिका के साथ पश्चिम के कई देश को चिंता सता रही है कि चीन हुवावे की टेक्नोलॉजी की मदद से दूसरे देशों की जासूसी कर रही है। लेकिन हुवावे ने बयान देते हुए कहा है कि कंपनी पर चीन की सरकार का नियंत्रण नहीं है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story