logo
Breaking

Jio के खिलाफ महागठबंधन, Airtel, Vodafone और Idea में होगा टाई-अप

Jio से मिल रही चुनौती का मुकाबला करने के लिए आइडिया और वोडाफोन पहले ही मिलकर एक हो चुके हैं, लेकिन अब टेलीकॉम सेक्टर में एक ऐसा महागठबंधन बनने जा रहा है जो जियो को तगड़ी चुनौती देगा।

Jio के खिलाफ महागठबंधन, Airtel, Vodafone और Idea में होगा टाई-अप

Jio से मिल रही चुनौती का मुकाबला करने के लिए आइडिया और वोडाफोन पहले ही मिलकर एक हो चुके हैं, लेकिन अब टेलीकॉम सेक्टर में एक ऐसा महागठबंधन बनने जा रहा है जो जियो को तगड़ी चुनौती देगा।

भारती एयरटेल और वोडाफोन आइडिया जियो को टक्कर देने के लिए फाइबर नेटवर्क साझा करने पर विचार कर रहे हैं।

TRAI के हवाले से हुआ खुलासा, 2022 तक भारत में आएगी 5G सर्विस

कहा जा रहा है कि बस कुछ योजना के मुताबिक रहा तो आने वाले दिनों में वो एक साझा फाइबर नेटवर्क की शुरुआत कर सकते हैं। भारती एयरटेल अब कस्टमर बेस की जगह कमाई बढ़ाने पर ध्यान दे रही है इसलिए उसका फोकस प्रीमियम कस्टमर पर है।

कई कंपनियां हो चुकीं बंद

जियो के सस्ते डेटा ऑफर्स के बाद कई छोटी कंपनियां खत्म हो चुकी हैं, जबकि वोडाफोन और आइडिया ने आपस में विलय कर लिया। एयरटेल के एक शीर्ष अधिकारी का कहना है कि हमें इस साझेदारी और एक कंपनी बनाने की खुशी है। हम वोडाफोन आइडिया के साथ पहले ही मिलकर काम कर रहे हैं।

जल्द शुरू होगा जियो गीगाफाइबर ब्राडबैंड

दूसरी ओर रिलायंस जियो के पास देश भर में हाई स्पीड फाइबर नेटवर्क है। रिलायंस जल्द ही जियो गीगाफाइबर नाम से ब्राडबैंड सर्विस शुरू करने जा रहा है, जिसके बाद माना जा रहा है कि इस सेग्मेंट में भी प्राइव वार तेज हो जाएगा।

रिलायंस ने अभी नहीं बताया है कि उसकी ब्राडबैंड सेवाओं का शुल्क क्या होगा लेकिन अगर एयरटेल और वोडाफोन आइडिया फाइबर नेटवर्क शेयर करते हैं, तो ये साफ हो जाएगा कि दोनों कंपनियों के बीच जारी जंग अभी जारी रहेगी।

क्या होगा ग्राहकों पर असर

अब ये साफ हो रहा है कि टेलीकॉम कंपनियों के बीच जारी जंग का असर निम्न आय वर्ग के ग्राहकों पर नकारात्मक होगा। एयरटेल पहले ही कह चुका है कि अब उसकी सेवाएं लेने के लिए ग्राहकों के हर महीने कम से कम 35 रुपये का रीचार्ज कराना होगा यानी मुफ्त में इनकमिंग के दिन अब लद जाएंगे।

अलविदा 2018: Jiophone में आए थे Whatsapp, Facebook और Youtube ऐप, मचाया था धमाल

जियो अनलिमिटेड कॉलिंग की सुविधा तो देता है, लेकिन मुफ्त इनकमिंग की सुविधा यहां भी नहीं है। हालांकि थोड़ा खर्च करने वाले मीडियम और हाईएंड ग्राहकों के लिए इस जंग में फायदा ही नजर आ रहा है।

Share it
Top