Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सामने आया एयरटेल का घपला, बिना सहमति ही खाते में डाले 168 करोड़

UIDAI ने एयरटेल के E-KYC का लाइसेंस कैंसिल कर दिया है।

सामने आया एयरटेल का घपला, बिना सहमति ही खाते में डाले 168 करोड़
X

एयरटेल का मोबाइल फोन कनेक्शन लेने वाले करीब 37.21 उपभोक्ताओं की नवंबर अंत तक 167.7 करोड़ रुपए की एलपीजी सब्सिडी उनकी विधिवत सहमति के बिना ही एयरटेल पेमेंट बैंक के उनके खातों में डाली गई है।

एक वरिष्ठ अधिकारी दी यह जानकारी

अधिकारी ने कहा कि इन ग्राहकों से इसके लिए सूचना देकर उनकी सहमति नहीं ली गई। भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने शनिवार को इस मामले में कार्रवाई करते हुए भारती एयरटेल और एयरटेल पेमेंट बैंक को ग्राहकों के सिम सत्यापन की ई-केवाईसी के उपयोग से अस्थाई रूप से रोक दिया है।

कुल 37.21 लाख उपभोक्ता

अधिकारी ने कहा कि नवंबर के अंत तक एयरटेल पेमेंट बैंक के खातों में 167.77 करोड़ रुपए की एलपीजी सब्सिडी डाली गई। यह कुल 37.21 लाख उपभोक्ताओं से संबंधित है। सरकार सब्सिडी भुगतान में किसी प्रकार की गड़बड़ी को रोकने के लिए इसे सीधे उनके आधार संख्या से जुड़े खाते में स्थानांतरित करती है।

यह भी पढ़ें- इस खास वजह से OPPO का यह स्मार्टफोन है चर्चा में, जानें कीमत और फीचर्स

IOC के 88.18 करोड़ सब्सिडी डाली गई

रसोईं गैस के कनेक्शनधारकों को साल में अधिकतम 12 एलपीजी सिलेंडरों (14.2 किलोग्राम प्रत्येक) के लिए सब्सिडी दी जाती है। उपरोक्त 167.72 करोड़ रुपए की एलपीजी सब्सिडी में से 88.18 करोड़ रुपए की सब्सिडी इंडियन आयल कारपोरेशन के 17.32 लाख उपभोक्ताओं के खातों में डाली गई।

HPCL का 40 करोड़ स्थानांतरित

वहीं हिंदुस्तान पेट्रोलियम कारपोरेशन के 10.06 लाख उपभोक्ताओं के खातों में 40 करोड़ रुपए की सब्सिडी स्थानांतरित की गई। भारत पेट्रोलियम कारपोरेशन के 9.8 लाख उपभोक्ताओं के खातों में 39.46 करोड़ रुपए की सब्सिडी डाली गई।

अधिकारी ने जोर देकर कहा कि 37.21 लाख पेमेंट बैंक के खाते ग्राहकों को सूचित कर और उनकी सहमति लिए बिना सक्रिय किए गए।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story