Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आधार कार्ड की जानकारी इन आसान तरीकों से रख सकते हैं सुरक्षित

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने घुसपैठ या सेंध से लोगो की पहचान संबंधी आंकड़ों को बचाने के लिए एक अतिरिक्त सुरक्षा उपाय ''बायोमेट्रिक लॉक'' होने की जानकारी दी है।

आधार कार्ड की जानकारी इन आसान तरीकों से रख सकते हैं सुरक्षित
X

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने घुसपैठ या सेंध से लोगो की पहचान संबंधी आंकड़ों को बचाने के लिए एक अतिरिक्त सुरक्षा उपाय 'बायोमेट्रिक लॉक' होने की जानकारी दी है।

प्राधिकरण ने व्यक्तिगत जानकारी वाले इन आंकड़ों की सुरक्षा के लिए हाल ही में 'आभासी पहचान संख्या' का एक अतिरिक्त उपाय करने की जानकारी दी है, लेकिन इससे काफी पहले ही उसने बायोमेट्रिक ताला लगाने का सुरक्षा उपाय कर लिया था। लेकिन इसके बारे में बहुत कम लोगों को जानकारी है।

इस सुविधा की जानकारी लोगों को कम ही है। इसके तहत कोई भी आधार कार्ड धारक अपनी बायोमेट्रिक जानकारियों को लॉक या अनलॉक कर सकते हैं। प्राधिकरण ने बताया कि इस सुविधा का इस्तेमाल उसकी वेबसाइट या मोबाइल ऐप के जरिए कर सकते हैं। इसके लिए उन्हें आधार संख्या और पंजीकृत मोबाइल नंबर की जरूरत पड़ेगी।

यह भी पढ़ें- डिजिटल इंडिया एवं कैशलेस इकोनॉमी को लग सकता है झटका, एक्सपर्ट चिंतित

एक बार लॉक कर देने के बाद बायोमेट्रिक आंकड़ों का इस्तेमाल संभव नहीं हो सकेगा। उपभोक्ता किसी विशेष उद्देश्य जैसे सत्यापन आदि के लिए इसे अनलॉक कर सकते हैं तथा इसके बाद वह फिर से इसे लॉक कर सकते हैं।

प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अजय भूषण पांडेय ने कहा कि यह व्यवस्था बायोमेट्रिक आंकड़े का दुरुपयोग रोकना सुनिश्चित करने के लिए किया गया है।

आधार कार्ड को इस तरह करें बायोमेट्रिक लॉक

  • UIDAI स्व-सेवा पोर्टल के लिंक पर क्लिक करें और आधार सेवा अनुभाग के तहत 'लॉक / अनलॉक बायोमेट्रिक्स' ढूंढें।
  • यह लिंक एक अलग पृष्ठ पर जाता है जिसका शीर्षक लॉक / अनलॉक बायोमेट्रिक्स है।
  • 'अपना बॉयोमीट्रिक्स लॉक करें' अनुभाग के तहत, निर्दिष्ट किए गए क्षेत्रों में अपना 12-अंकों का आधार संख्या और सुरक्षा कोड दर्ज करें।
  • UIDAI की वेबसाइट के मुताबिक लॉग इन के लिए एक ओटीपी या वन-टाइम पासवर्ड आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर पर भेज दिया जाएगा।
  • अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर पर संबंधित क्षेत्र में प्राप्त ओटीपी दर्ज करें और 'लॉगिन' पर क्लिक करें। इस सेवा का लाभ उठाने के लिए UIDAI पर पंजीकृत मोबाइल नंबर आवश्यक है।
  • ओटीपी दर्ज करने के बाद, एक बार फिर पासवर्ड दर्ज करें और 'इनेबल' पर क्लिक करें आपका बॉयोमीट्रिक्स अब लॉक हो जाएगा "आप किसी भी सेवा के लिए आधार-आधारित बायोमैट्रिक प्रमाणीकरण का उपयोग नहीं कर पाएंगे, जब तक कि आप अपने बॉयोमीट्रिक्स को अनलॉक नहीं करते।
  • लॉक को इनेबल करने के बाद, UIDAI ऑनलाइन टूल यह संदेश प्रदर्शित करता है: "बधाई! आपका बॉयोमीट्रिक्स लॉक है। आप अपने फ़िंगरप्रिंट या आईरिस का उपयोग करके प्रमाणित नहीं कर पाएंगे। आप किसी भी प्रमाणीकरण आवश्यकताओं के लिए अस्थायी रूप से बॉयोमीट्रिक्स अनलॉक कर सकते हैं । आप लॉक बॉयोमेट्रिक्स को भी अक्षम कर सकते हैं लेकिन उससे पहले आपको अपने आधार का उपयोग करके प्रवेश करना होगा। "

यह भी पढ़ें- 31 मार्च तक दूरसंचार क्षेत्र में हो सकता है बड़ा बदलाव, इन कामों में आएगी सुगमता

आधार कार्ड को इस तरह करें बायोमेट्रिक अन-लॉक

  • अन-लॉक करने के लिए भी आपको पहले अपने आधार कार्ड अकाउंट में लॉगिन करें।
  • लॉगिन करने के बाद, सुरक्षा कोड दर्ज करें और फिर UIDAI वेबसाइट के अनुसार, बॉयोमीट्रिक लॉक को अक्षम करने के लिए अगले पृष्ठ पर 'डिसेबल' बटन पर क्लिक करें। लॉक इनेबल होने के बाद यूजर्स या तो अनलॉक कर सकता है (जो अस्थायी है) या लॉकिंग सिस्टम को डिसेबल कर सकता है।
  • बायोमेट्रिक्स लॉकिंग सिस्टम के उपयोगकर्ता को चेतावनी दी गई है कि इस सुविधा का उपयोग प्रमाणीकरण सेवाओं से इनकार करने से रोकने के लिए किया जाएगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story