Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

क्या आप भी करते हैं ऑनलाइन भुगतान के लिए UPI का इस्तेमाल? तो ये हैं धोखाधड़ी से बचने के 5 तरीके

Upi Scam Alert: बड़े पेमाने में इस्तेमाल होने वाले यूपीआई का अधिक यूज बैंकिंग धोखेधड़ी को भी बढ़ा रहा है। आज हम आपको यूपीआई धोखाधड़ी से बचने के 5 तरीके बताने जा रहे हैं, आइए जानते हैं...

क्या आप भी करते हैं ऑनलाइन भुगतान के लिए UPI का इस्तेमाल? तो ये हैं धोखाधड़ी से बचने के 5 तरीके
X

आज के समय में ज्यादातर लोग ऑनलाइन पेमेंट (Online Payment) को अपनाने लगे हैं, जिसका माध्यम एकीकृत भुगतान इंटरफेस (unified payment interface) यानी यूपीआई (UPI) बन चुका है। किसी ऐप से पेमेंट करनी हो या किसी लिंक से सभी तरह के लिए यूपीआई का यूज किया जा सकता है। आने वाले समय में यूपीआई, डेबिट कार्ड (Debit Card) की भी जगह ले सकता है। ऐसे में पेमेंट (UPI Payment) के लिए या पैसे निकासी के लिए डेबिट कार्ड की जरूरत नहीं होगी और ये काम चुटकियों में यूपीआई कर देगा। सरल भाषा में कहें तो यूपीआई के कंधों पर कई भारी जिम्मेदारियां आ चुकी हैं तो कुछ आने की तैयारी में हैं।

बड़े पेमाने में इस्तेमाल होने वाले यूपीआई का अधिक यूज बैंकिंग धोखेधड़ी को भी बढ़ा रहा है। बीते कुछ सालों से कई ऐसे मामले सामने आए हैं जिसमें यूपीआई उपभोक्ताओं के साथ वित्तीय धोखाधड़ी हुई है। आज हम आपको यूपीआई धोखाधड़ी से बचने के 5 तरीके बताने जा रहे हैं, आइए जानते हैं...

धोखाधड़ी से बचाएंगे ये 5 तरीके

1. Customer Care Centre- अगर आपके पास किसी ग्राहक सेवा केंद्र, सरकारी संस्थान, बैंक या नामी-गिरामी कंपनी से कॉल आए और वो यूपीआई आईडी मांगे तो उन्हें ये बिल्कुल न दें। किसी को भी अपना यूपीआई आईडी और पिन शेयर न करें। पिन की जानकारी मांगने वाला धोखाधड़ी कर सकता है।

2. Device Access- अगर आपसे कोई कॉल या फोन कर जरूरी जानकारी के नाम पर या फिर केवाईसी अपडेट करने का दावा करते हुए ग्राहक सेवा प्रतिनिधि मोबाइल या कंप्यूटर डिवाइस का एक्सेस मांगे तो इससे साफ इनकार कर दें। भूलकर भी अपने डिवाइस का एक्सेस किसी को न दें।

3. Cashback or Lottery- अगर कोई वेबसाइट आपको बहुत ज्यादा कैशबैक दे रही है या इनाम देने का दावा करती है तो आपको पैसो की लालच में आकर ऐसी वेबसाइट से लेनदेन नहीं करना चाहिए। ये धोखाधड़ी करने का भी एक नया तरीका हो सकता है। लेनदेन करने पर ये वेबसाइट आपके यूपीआई आईडी और पिन की जानकारी लेकर बैंक खाते को खाली कर सकती है।

4. Change UPI Pin: आपको अपना यूपीआई पिन हर महीने चेंज कर लेना चाहिए। अगर हर महीने नहीं कर सकते हैं तो कम से कम 3 महीने में तो यूपीआई पिन को जरूर बदल लें। इससे आपका खाता सुरक्षित रह सकता है।

5. UPI Amount Limit Per Day: धोखाधड़ी के मामलों से बचने के लिए आपको रोजाना लेनदेन के लिए यूपीआई पर राशि की सीमा तय कर लेनी चाहिए।

और पढ़ें
Next Story