Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अब जैविक उत्पादों की खरीद-बिक्री घर बैठे ऑनलाइन कर सकेंगे किसान, कृषि विभाग ने बनाया ये नया ऐप

किसान जैविक अनाज, जैविक सब्जी, जैविक मसाले तथा जैविक फलों का उत्पादन कर रहे हैं, लेकिन इन्हें अपनी उपज बेचने के लिए खरीददार ढूंढने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इन्हीं दिक्कतों को दूर करने के लिए किसान तथा उपभोक्ता को ऑनलाइन मंच उपलब्ध करवाने के लिए 'राज किसान जैविक' मोबाइल ऐप विकसित किया गया है।

अब जैविक उत्पादों की खरीद-बिक्री घर बैठे ऑनलाइन कर सकेंगे किसान, कृषि विभाग ने बनाया ये नया ऐप
X

Agriculture 

जयपुर। राजस्थान कृषि विभाग (Rajasthan Agriculture Department) ने 'राज किसान जैविक' मोबाइल ऐप (Mobile App) बनाया है जिसके जरिए राज्य में अब जैविक उत्पादों (organic products) की खरीद-बिक्री घर बैठे ही Online की जा सकेगी। कृषि मंत्री लालचंद कटारिया (Lalchand Kataria) ने बताया कि राजस्थान राज्य जैविक प्रमाणीकरण संस्था में 90 जैविक उत्पादक समूह पंजीकृत हैं जिनसे करीब 20 हजार से अधिक किसान जुड़े हुए हैं। यह किसान जैविक अनाज, जैविक सब्जी, जैविक मसाले तथा जैविक फलों का उत्पादन कर रहे हैं, लेकिन इन्हें अपनी उपज बेचने के लिए खरीददार ढूंढने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इन्हीं दिक्कतों को दूर करने के लिए किसान तथा उपभोक्ता को ऑनलाइन मंच उपलब्ध करवाने के लिए 'राज किसान जैविक' मोबाइल ऐप विकसित किया गया है।

ऐप के जरिए ऐसे आसान होगा काम

राज्य कृषि मंत्री ने बताया कि इस App पर पंजीकरण (Registration) कराकर उत्पादक और व्यापारी-उपभोक्ता आपस में बातचीत कर उपज की बिक्री और खरीद कर सकते हैं। इसमें व्यक्तिगत और समूह के रूप में प्रमाणित दोनों ही प्रकार के किसान अपना पंजीकरण करवा सकते हैं। इस एप पर अब तक 160 किसानों और 29 खरीददारों का पंजीकरण हो चुका है।

उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार जैविक खेती को बढ़ावा देने और खरीद-बिक्री आसान बनाने के लिए सत्त प्रयास कर रही है। इसी क्रम में गत दिनों जयपुर में दुर्गापुरा स्थित कृषि प्रबंधन संस्थान से जैविक उत्पाद बिक्री प्रोत्साहन स्थल की शुरूआत की गई थी। कृषि विभाग के प्रमुख शासन सचिव भास्कर ए सावंत ने बताया कि किसान गूगल प्ले स्टोर से 'राज किसान जैविक' मोबाइल एप डाउनलोड कर विक्रेता के रूप में पंजीकरण करा सकते हैं।

और पढ़ें
Next Story