Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पीएफ खाते से सिर्फ तीन दिन में निकल रहा पैसा, ऐसे उठाएं लाभ

केंद्र सरकार ने कोरोना संकट के कारण लॉकडाउन के बीच कर्मचारियों और पेंशनधारियों की आर्थिक मदद के लिए कई राहतभरी घोषणाएं करके नियमों में बदलाव करके तकनीक का इस्तेमाल किया है। इसी का नतीजा है कि ईपीएफओ कोरोना संकट की घड़ी में इस नई सर्विस के जरिए लाखों की संख्या में कर्मचारियों को पीएफ खातों से पैसे की निकासी को आसान बना सका है।

पीएफ खाते से सिर्फ तीन दिन में निकल रहा पैसा, ऐसे उठाएं लाभ
X

केंद्र सरकार ने कोरोना संकट के कारण लॉकडाउन के बीच कर्मचारियों और पेंशनधारियों की आर्थिक मदद के लिए कई राहतभरी घोषणाएं करके नियमों में बदलाव करके तकनीक का इस्तेमाल किया है। इसी का नतीजा है कि ईपीएफओ कोरोना संकट की घड़ी में इस नई सर्विस के जरिए लाखों की संख्या में कर्मचारियों को पीएफ खातों से पैसे की निकासी को आसान बना सका है।

मसलन नौकरी करने वाले अब अपने पीएफ खाते से तीन दिन में पैसा निकाल रहे हैं, जो की वहीं ईपीएफओ ने कोरोना संकट के मद्देनजर एक नई सर्विस शुरू की है, जिसके जरिए नौकरी करने वाला कोई भी कर्मचारी अपने पीएफ खाते से तीन दिन में पैसा निकाल सकता है। केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के अनुसार मंत्रालय के अधीन संस्था कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने कोरोना संकट के कठिन समय में अपने अपने अंशधारकों को बड़ी राहत देने की दिशा में एक और तकनीकी सेवा को अंजाम दिया है।

ईपीएफओ ने कोरोना महामारी से संबन्धित संबंधित धन निकासी करने वालों के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस तकनीक प्रक्रिया शुरू की है, जिससे कर्मचारी अपने पीएफ खाते से तीन दिन में पैसा निकाल सकेगा। इसी ऑटोमेटेड सिस्टम का इस्तेमाल करते हुए ईपीएफओ लॉकडाउन के दौरान 36.02 लाख दावों का निपटारा कर चुका है, जिसमें ईपीएफओ का दावा है कि वह इस तकनीक के जरए हर दिन औसत 80 हजार से ज्यादा दावों का निपटान करके करीब 270 करोड़ रुपये की धनराशि पीएफ धारकों के खातों में जमा की जा रही है।

पीएफ से पैसा निकालने वालाें की संख्या बढ़ी

मंत्रालय के अनुसार कोरोना संकट के दौरान पीएफ से पैसा निकालने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इसलिए ईपीएफओ धन निकासी को सरल और आसान बनाने के लिए एआई तकनीकी प्रक्रिया अपना रहा है। मंत्रालय के अनुसार ईपीएफओ की अपने अंशधारकों को कोरोना संकट में आर्थिक राहत देने की दिशा में अपनी प्रतिबद्धता में दावों के निपटान में नई तकनीकी सेवा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के इस्तेमाल की बड़ी भूमिका​ है।

ऑटो मोड पर निपटाए 54 फीसदी दावे

पीएफओ के हवाले से श्रम एवं रोजगार मंत्रालय ने बताया कि ईपीएफओ ने इस नई तकनीकी प्रणाली का इस्तेमाल करते हुए पीएफ खाताधारकों के दावे मंजूर किये हैं। मसलन ईपीएफओ द्वारा लॉकडाउन के दौरान अप्रैल व मई माह में निपटाए गये 11,540 करोड़ रुपये के 36.02 लाख दावों दावों में 4580 करोड़ रुपये क 15.54 लाख दावे पीएमजीकेवाई के तहत विशेष प्रावधान वाले शामिल रहे। इन दावों में 54 फीसदी दावे ऐसे हैं, जिनका निपटारा ऑटो मोड पर किया जा रहा है। मंत्रालय ने कहा कि इस तकनीकी प्रणाली से भविष्य में ईपीएफओं द्वारा दावों को काफी कम समय में निपटाए जाने की उम्मीद है।

Next Story