Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
toggle-bar

माइक्रोसॉफ्ट ने टिकटॉक खरीदने के प्रस्ताव को ठुकराया, बताई जा रही ये बड़ी वजह

अमेरिका और चीन के बीच विवाद का केंद्र बना टिकटॉक। राष्ट्रपति ने टिकटॉक के साथ काम करने की समयसीमा निर्धारित की।

माइक्रोसॉफ्ट ने टिकटॉक खरीदने के प्रस्ताव को ठुकराया, बताई जा रही ये बड़ी वजह
X

अमेरिकी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ने टिकटॉक (TikTok) को खरदीने की पेशकश को खारिज कर दिया है। उन्होंने इसकी वजह चीनी स्वामित्व वाली वीडियो ऐप को अपने अमेरिकी परिचालन को बेचने या बंद करने की समय सीमा समाप्त होने के करीब बताया है। वहीं टिकटॉक अमेरिका और चीन के बीच विवाद का केंद्र बना गया है। जिसको लेकर (President Donald Trump) राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिकी कंपनियों को टिकटॉक की मूल कंपनी बाइटडांस (Byte Dance) के साथ कारोबार रोकने के लिए समयसीमा निर्धारित की थी।

दरअसल, अमेरिकी टेक दिग्गज कंपनी माइक्रोसॉफ्ट और टिकटॉक (Microsoft - TikTok) के बीच डील चल रही थी, लेकिन अब इस पर विराम लग गया है। इसकी वजह माइक्रोसॉफ्ट द्वारा टिकटॉक को को खरीदने की पेशकश को खारिज करना है। कंपनी ने इसकी वजह टिकटॉक के परिचालन और बेचने या बंद करने की सीमा समाप्त की तारीख को नजदीक होना बताया है। वहीं (President Trump) राष्ट्रपति ट्रंप का दावा है कि चीन टिकटॉक का इस्तेमाल सरकारी कर्मचारियों की लोकेशन ट्रैक करने, ब्लैकमेल करने और कॉर्पोरेट जासूसी करने में कर सकता है। इसके साथ ही अमेरिकी टेक दिग्गजन ने एक बयान में कहा कि बाइटडांस ने टिकटोक के अमेरिकी परिचालन को माइक्रोसॉफ्ट को नहीं बेचेंगे।

वहीं Microsoft ने कहा कि यह सुरक्षा, गोपनीयता, ऑनलाइन सुरक्षा और डिसइन्फॉर्मेशन से निपटने के लिए उच्चतम मानकों को पूरा करने के लिए सुनिश्चित करने के लिए महत्वपूर्ण बदलाव किए होते। टिकटॉक ने अमेरिकी सरकार द्वारा इस कार्रवाई को चुनौती देते हुए मुकदमा दायर किया है। इसमें कहा गया है कि ट्रंप का आदेश 'अंतरराष्ट्रीय आपातकालीन आर्थिक शक्ति अधिनियम' का दुरुपयोग है। इसकी वजह यह प्लेटफॉर्म देश के लिए एक असामान्य और असाधारण खतरा नहीं है। वहीं एक विदेशी अखबार के अनुसार, ओरैकल ने टिकटॉक को खरीदने की बोली जीती है। हालांकि कंपनी ने तुरंत एएफपी को मामले की पुष्टि नहीं की है। वहीं बता दें कि अमेरिका में टिकटॉक को 17.5 करोड़ बार डाउनलोड किया गया है। जबकि दुनिया भर में अरबों लोग इस ऐप का इस्तेमाल मोबाइल फोन से शॉर्ट वीडियो बनाने के लिए करते हैं।

और पढ़ें
Next Story