Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

फिर से बढ़ी पेंशनर्स के लिए जीवन प्रमाण पत्र जमा करने की डेडलाइन, ऐसे घर बैठे करें सब्मिट!

हर साल लाइफ सर्टिफिकेट जमा करने की डेडलाइन 30 नवंबर होती है, लेकिन कोरोना दौर को देखते हुए इसे 31 दिसंबर कर दिया गया था। वहीं, अब इसे बढ़ाकर 28 फरवरी, 2022 कर दिया गया है।

फिर से बढ़ी पेंशनर्स के लिए जीवन प्रमाण पत्र जमा करने की डेडलाइन, ऐसे घर बैठे करें सब्मिट!
X

केंद्र सरकार के पेंशनभोगियों के लिए जीवन प्रमाण पत्र जमा (Life Certificate) करने की तिथि को एक बार फिर बढ़ा दिया गया है। जहां पहले लाइफ सर्टिफिकेट जमा (Jeevan Pramaan Patra) करने की लास्ट डेट 31 दिसंबर, 2021 तय की गई थी। वहीं, अब इसे बढ़ाकर (Life Certificate Submission Last Date) 28 फरवरी, 2022 कर दिया गया है। ऐसे में जिन सरकारी पेंशनभोगियों ने अभी तक जीवन प्रमाण पत्र जमा (Government Pensioners Life Certificate) नहीं किया है, उनके लिए इसे जमा करने का एक ओर मौका है। ऐसे में आप 28 फरवरी से पहले इसे जमा करवा सकते हैं।

हर साल लाइफ सर्टिफिकेट जमा करने की डेडलाइन 30 नवंबर होती है, लेकिन कोरोना दौर को देखते हुए इसे 31 दिसंबर कर दिया गया था। वहीं, अब इसे बढ़ाकर 28 फरवरी, 2022 कर दिया गया है। हाल ही में सरकार द्वारा रिटायर्ड और बुजुर्ग नागरिकों की सुविधा के लिए फेस रिकग्निशन टेक्नोलॉजी की शुरुआत की है।

फेस रिकग्निशन टेक्नोलॉजी क्या है

फेस रिकग्निशन टेक्नोलॉजी को सरकार द्वारा बुजुर्ग और रिटायर्ड नागरिकों के लिए पेश किया गया है। इसके तहत करीब 68 लाख पेंशनभोगियों को फायदा होगा। केंद्रीय राज्य मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह का कहना है कि ये टेक्नोलॉजी एक ऐतिहासिक और दूरगामी सुधार है। इससे न सिर्फ 68 लाख पेंशनभोगियों को लाभ होगा, बल्कि राज्य सरकार और ईपीएफओ के पेंशनभोगियों को भी लाभ होगा।

खासतौर पर वरिष्ठ नागरिकों के लिए उपलब्ध

फेस रिकग्निशन टेक्नोलॉजी के तहत वरिष्ठ नागरिक पेंशनभोगियों को खास लाभ हो सकता है। दरअसल, बढ़ती उम्र के कारण वरिष्ठ नागरिक अपनी उंगलियों के निशान को बायोमेट्रिक आईडी के तौर पर जमा नहीं कर पाते हैं। वहीं, अब फेस रिकग्निशन टेक्नोलॉजी की मदद से डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट को जमा कर पाएंगे।

कैसे होगा फेस रिकग्निशन टेक्नोलॉजी का यूज

पेंशनभोग या उनके परिवारिक पेंशभोगी की पहचान के तौर पर फेस रिकग्निशन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाएगा। पहचान निर्धारित करने के लिए फिलहाल, ऑनलाइन तरीके से डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट (DLC) को स्टोर किया जाता है।

ये हैं फेस रिकग्निशन के लिए जरूरी

फेस रिकग्निशन के लिए पेंशभोगी के पास अच्छा इंटरनेट कनेक्शन, रजिस्टर्ड आधार नंबर, एक स्मार्टफोन जिसमें 5 मेगापिक्सल या उससे ज्यादा रिजोल्यूशन वाला कैमरा होना चाहिए।

ऐसे करें मोबाइल से लाइफ सर्टिफिकेट जमा

लाइफ सर्टिफिकेट जमा करने के लिए ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरीके हैं। अगर आप ऑनलाइन प्रक्रिया से लाइफ सर्टिफिकेट जमा करना चाहते हैं तो इसके लिए अपने स्मार्टफोन में आधार फेस आईडी ऐप को गूगल स्टोर से डाउनलोड कर लें। आप चाहें तो सरकारी वेबसाइट jeevanpramaan.gov.in पर जाकर Face App डाउनलोड कर सकते हैं। इसमें भी पेंशनभोगी अपना उचित प्राधिकरण प्रदान कर सकता है। इसके लिए आपको अपना फेस स्कैन करना होगा। आगे प्रोसेस में आपकी लाइव तस्वीर स्कैन की जाएगी, साथ ही जानकारी भी पूछी जाएगी।

यहां भी जमा कर सकते हैं लाइफ सर्टिफिकेट

आप चाहें तो लाइफ सर्टिफिकेट को ऑफलाइन तरीके से भी जमा करवा सकते हैं। इसके लिए आप पेंशन खाते वाले बैंक, पोस्ट ऑफिस, कॉमन सर्विस सेंटर, इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक, डोरस्टेप बैंक, पोस्टमैन के जरिए या फिर नजदीकी ईपीएफओ ऑफिस में भी जीवन प्रमाण पत्र जमा कर सकते हैं।

Next Story