Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

IRCTC ने ट्रेन में 15 रुपये की बोतल बेचकर कमाये 3.25 करोड़ रुपय, लॉकडाउन के बीच हुआ इतना घाटा

लॉकडाउन के दौरान आईआरसीटीसी को हुआ बड़ा घाटा। पिछले साल इन्हीं महीनों में कमाया था मोटा मुनाफा।

IRCTC ने ट्रेन में 15 रुपये की बोतल बेचकर कमाये 3.25 करोड़ रुपय, लॉकडाउन के बीच हुआ इतना घाटा
X

कोरोना संकट की वजह से जहां उद्योगपति से लेकर आम आदमी को नुकसान पहुंचा है। वहीं इसमें (IRCTC) आईआरसीटीसी भी शामिल है। लॉकडाउन के दौरान अप्रैल से जून माह के बीच आईआरसीटीसी को 24.6 करोड़ रुपये का घाटा उठाना पडा है। जबकि 2019 में अप्रैल से जून तिमाही में कंपनी को 72.33 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। वहीं रेल में मिलने वाले पानी पर भी इसका असर पडा है। यही वजह है कि रेल में बिकने वाला पानी की कमाई भी घटकर कुछ प्रतिशत ही रह गई है।

दरअसल, कोरोना के चलते देश में मार्च के बाद से रेल सेवाओं पर लगा प्रतिबंध धीरे धीरे हटाया जा रहा है। हालांकि अभी भी अधिकांश सामान्य यात्री सेवाओं पर रोक लगी हुई है। आपको बता दें कि आईआरसीटीसी, इंडियन रेलवे की कैटरिंग, टूरिज्म और टिकटिंग का काम देखती है। वहीं कंपनी अन्य टूरिज्म सेवाओं से भी जुड़ी है। जून तिमाही के दौरान आईआरसीटीसी की ऑपरेशंस से आय 71 प्रतिशत घटकर 131.33 करोड़ रुपये रह गई है। वहीं पिछले साल की इसी अवधि में आईआरसीटीसी को 459 करोड़ रुपये की कमाई हुई थी।

आईआरसीटीसी की रेलवे में कैटरिंग में कमाई करीब पिछले साल के मुकाबले 272 करोड़ रुपये से गिरकर 90 करोड़ रुपये रह गई हैद्ध इसमें इंटरनेट के जरिए (Ticket Booking) टिकट की बुकिंग 82 करोड़ रुपये से घटकर 35.22 करोड़ रुपये रह गई है। वहीं रेल में मिलने वाले पानी रेल नीर से होने वाली कमाई बुरी तरह प्रभावित हुई है। पिछले साल पानी से 57 करोड़ रुपये की कमाई करने वाली आईआरसीटीसी से घटकर 3.25 करोड़ रुपये के स्तर पर आ गई है।

Next Story