Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चिकन में बर्ड फ्लू की नहीं हुई पुष्टि, मार्किट में फिर भी सस्ता मिल रहा मुर्गा, डिमांड भी हुई कम

अभी तक चिकन में बर्ड फ्लू की पुष्टि नहीं हुई है, मगर फिर भी लोगों ने चिकन खाने से परहेज करना शुरू कर दिया है। बाजार में चिकन की डिमांड कम होती जा रही है यही वजह है कि चिकन पर अब तक 45 रुपये गिर चुके हैं

चिकन में बर्ड फ्लू की नहीं पुष्टि फिर भी मार्किट में इतना सस्ता मिल रहा मुर्गा, डिमांड भी हुई कम
X

सस्ता हो गया चिकन

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस का प्रकोप अभी थमा नहीं था कि एक नई बीमारी ने सबकी परेशानी को बढ़ा दिया है। देश के कई राज्यों में बर्ड फ्लू के फैलने की खबर सामने आ रही है। केरल में तो बर्ड फ्लू को लेकर आपातकाल तक घोषित कर दिया गया। वहीं राजस्थान की बात करें तो यहां अब सैंकड़ों पक्षियों के मरने की खबर सामने आ रही है। इस बीमारी का सबसे ज्यादा असर चिकन की बिक्री पर पड़ता है। हालांकि अभी तक चिकन में बर्ड फ्लू की पुष्टि नहीं हुई है, मगर फिर भी लोगों ने चिकन खाने से परहेज करना शुरू कर दिया है। बाजार में चिकन की डिमांड कम होती जा रही है यही वजह है कि चिकन पर अब तक 45 रुपये गिर चुके हैं। पोल्ट्री फार्म मालिक और गाज़ीपुर मंडी में चिकन का कारोबार करने वाले व्यापारियों का दावा है कि अभी तक चिकन में बर्ड फ्लू की पुष्टि नहीं हुई है। इसके बावजूद ग्राहकों में खौफ के चलते ही बाजार में चिकन सस्ता हो गया है। बीते 2 दिन में ही चिकनके भाव प्रति किलो 45 रुपये तक कम हो गए हैं। एशिया की सबसे बड़ी चिकन मंडी गाजीपुर में ग्राहकों की आमद भी कम हो गई है। होटलों को होने वाली चिकन की सप्लाई पर भी फर्क पड़ा है।

चिकन खाने वालों में खौफ

गाजीपुर मंडी में रचना पोल्ट्री के नाम से चिकन का कारोबार करने वाले व्यापारी ने बताया कि अभी तक किसी भी पोल्ट्री में बर्ड फ्लू से बीमार मुर्गी सामने नहीं आई है, लेकिन दूसरे पक्षियों के मरने और मीडिया में बर्ड फ्लू की खबरों के चलते चिकन खाने वालों में खौफ पैदा हो गया है। यही वजह है कि देखते ही देखते दो-तीन दिन में चिकन की डिमांड कम हो गई है। गाज़ीपुर से दिल्ली-एनसीआर समेत कुछ और दूसरे इलाकों में चिकन सप्लाई होता है। अकेले गाज़ीपुर मंडी से ही रोजाना 5 लाख तक मुर्गे सप्लाई हो जाते हैं, लेकिन अब यह नंबर घटने लगा है।

इब इस रेट पर मिल रहा चिकन

व्यापारी का कहना है कि तीन दिन पहले तक गाज़ीपुर मंडी मे 90 रुपये किलो से लेकिर 105 रुपये किलो तक चिकन बिक रहा था। चिकन के रेट मुर्गे के वजन के हिसाब से तय होते हैं। लेकिन बर्ड फ्लू की खबरें मीडिया में आते ही अब चिकन की डिमांड कम हो गई है। 6 जनवरी को चिकन 80 रुपये किलो पर आ गया था। वहीं आज 7 जनवरी को चिकन के रेट एकदम से घटते हुए 60 रुपये किलो पर आ गए हैं। जिस तरह से बर्ड फ्लू की खबरें और तेज हो गईं हैं तो उसे देखकर लगता है कि अभी चिकन के दाम और गिरेंगे।

Next Story