Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Tips and Tricks: बाइक और कार के माइलेज की सटीक जानकारी के लिए बस फॉलो करें ये आसान टिप्स

आज हम आपको कार और बाइक का माइलेज पता करने के कुछ टिप्स बताने जा रहे हैं, जिसके जरिए वाहन के माइलेज की सटीक जानकारी हो सकती है। आइए जानते हैं...

Tips and Tricks: बाइक और कार के माइलेज की सटीक जानकारी के लिए बस फॉलो करें ये आसान टिप्स
X

car bike mileage tips and tricks

पेट्रोल और डीजल (Petrol-Diesel Price Hike) की बढ़ती कीमतों के चलते आम लोगों की जेब पर काफी असर पड़ रहा है। बढ़ते खर्चों के साथ हर ईंधन वाहन का ध्यान माइलेज की ओर रहने लगा है। ऐसे में सभी ये जानकारी रखना चाहते हैं कि उनकी बाइक (Bike Tips) या कार (Car Tips) का माइलेज क्या है। जिसकी सटीक जानकारी नई और आधुनिक कारे भी डिस्प्ले के जरिए नहीं दे सकती हैं। डिस्प्ले पर फ्यूल इकोनॉमी को लेकर जानकारी (Car Bike Mileage Tips) असल में कुछ अलग होती और ये इतनी सटीक भी नहीं होती है। आज हम आपको कार और बाइक का माइलेज पता करने के कुछ टिप्स बताने जा रहे हैं, जिसके जरिए वाहन के माइलेज (Vehicle Mileage Tips) की सटीक जानकारी हो सकती है। आइए आपको इसके कुछ सरल तरीके बताते हैं...

ये माइलेज जानने के 5 सरल तरीके

1. माइलेज की सटीक जानकारी के लिए आपको सबसे पहले अपनी बाइक या कार का टैंक फुल भरवाना होगा। हालांकि, इससे पहले अपने वाहन में मौजूद फ्यूल को खत्म कर लें। एक बार टैंक पूरा खाली हो जाए तब जाकर उसे पूरा भरवा लें। जिससे पेट्रोल की सटीक जानकारी होने में मदद मिल सकती है।

2. टैंक फुल करवाने के बाद जब ये खत्म होने पर आने लगे तो तत्काल कार या बाइक में फिर से फ्यूल का टैंक फुल भरवा लें। साथ ही ओडोमीटर पर दिख रहे किलोमीटर की संख्या को अपने पास नोट करके संभालकर रखें। वहीं, कार में अगर ट्रिप मीटर है तो उसे जीरो पर ले आएं।

3. इसके बाद कार या बाइक रोजाना दिनों के हिसाब से यूज करें जैसे आप करते आए हैं। जब-जब गाड़ी के टैंक को फुल करवाने जाएं ऊपर बताई गए टिप्स को जरूर फॉलो करें। इस दौरान पेट्रोल की सटीक मात्रा को भी अपने पास नोट कर लें।

4. जैसे ही कार या बाइक का फ्यूल टैंक रिजर्व में पहुंचने लगे आप अपने नजदीकी पेट्रोल पंप पर जाकर तीसरी बार फिर से टैंक में फ्यूल फुल भरवा लें। ऊपर बताए गए प्रोसेसे को फॉलो कर फिर से नोट करें और फिर लास्ट में लिखे गए वाहन का किलोमीटर और फ्यूल लीटर को कम्पेयर करें। उदाहरण के तौर पर अगर 20 लीटर पेट्रोल में कार या बाइक 300 किलोमीटर तक चली है तो ऐसे में 15 किलोमीटर प्रति लीटर माइलेज बनता है।

5. एक बार फिर फ्यूल का टैंक फुल करवा लें और प्रक्रिया को फिर से अपना लें। इस तरह से आपको अपने बाइक या कार की सटीक जानकारी हासिल हो सकती है। इसके अलावा आप वाहन के माइलेज को बेहतर करने के लिए समय-समय पर मेंटेनेस और इंजन का खास ख्याल रखें।

और पढ़ें
Next Story