Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

RBI के किसी ऐलान से पहले ही महंगा होने लगा कर्ज, बैंकों ने आज से बढ़ा दी ब्याज दरें

जानकारी के अनुसार, केनरा बैंक ने एक साल के फंड के लिए MCLR को 0.05 प्रतिशत बढ़ाकर 7.40 प्रतिशत कर दिया है। वहीं, 6 महीने के लिए इस रेट को 7.30 फीसदी से बढ़ाकर 7.35 फीसदी कर दिया गया है।

Loans started getting expensive even before any announcement by RBI, banks increased interest rates from today.
X

RBI के किसी ऐलान से पहले ही महंगा होने लगा कर्ज

सस्ते लोन का दौर अब समाप्त हो चुका है और बैंक लगातार ब्याज दरें (Interest Rate Hike) बढ़ाने लगे हैं। यानी अब आप पर EMI का बोझ भी बढ़ जाएगा। मई के महीने में आरबीआई की आपात बैठक (RBI MPC Meeting) में रेपो रेट बढ़ाए (Repo Rate Hike) जाने के ऐलान के बाद एक के बाद सभी बैंकों ने ब्याज दरें बढ़ा दीं। वहीं इस समय रिजर्व बैंक की 3 दिवसीय बैठक चल रही है। जानकारी के अनुसार ये बताया जा रहा है कि इस बैठक के बाद रिजर्व बैंक रेपो रेट बढ़ाने का ऐलान कर सकता है।

अभी केनरा बैंक (Canara Bank), एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) और करुर वैश्य बैंक (Karur vysya Bank) ने अपनी ब्याज दरों (Interest Rate Hike) में इजाफा किया है। इसकी वजह से EMI में बढ़ोतरी होगी। केनरा बैंक ने बताया कि नई ब्याज दरें (Canara Bank New Interest Rate) 7 जून से प्रभावी हैं। केनरा बैंक ने मार्जिन कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट्स (MCLR) में 0.05 फीसदी का इजाफा किया है। वहीं, करुर वैश्य बैंक ने बेंचमार्क प्राइम लेंडिंग रेट्स (BPLR) को 0.40 फीसदी बढ़ाया है। HDFC ने भी अपने MCLR में 0.35 फीसदी की बढ़ोतरी की है।

जानकारी के अनुसार, केनरा बैंक ने एक साल के फंड के लिए MCLR को 0.05 प्रतिशत बढ़ाकर 7.40 प्रतिशत कर दिया है। वहीं, 6 महीने के लिए इस रेट को 7.30 फीसदी से बढ़ाकर 7.35 फीसदी कर दिया गया है। निजी क्षेत्र के करुर वैश्य बैंक ने BPLR को 0.40 फीसदी बढ़ाकर 13.75 फीसदी और बेसिस प्वाइंट को भी 0.40 फीसदी बढ़ाकर 8.75 फीसदी कर दिया है। वहीं संभवानाएं जताई जा रही हैं कि आरबीआई की इस बैठक में रेपो रेट (Repo Rate) में 35 से 40 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी का फैसला किया जा सकता है।

और पढ़ें
Next Story