Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

5G के रिचार्ज प्लान सस्ते होंगे या महंगे, वोडाफोन आइडिया ने दिया ये जवाब

भारत में 5जी नेटवर्क (5G network) के आने का इंतजार कभी भी खत्म हो सकता है। 5जी को लेकर लोगों के मन में सबसे बड़ा सवाल यही है कि 5जी के रिचार्ज प्लान सस्ते होंगे या महंगे। इसी सवाल का जवाब Vi (वोडाफोन आइडिया) की ओर दिया गया है।

5G के रिचार्ज प्लान सस्ते होंगे या महंगे, वोडाफोन आइडिया ने दिया ये जवाब
X

5G recharge plan price: भारत में 5जी नेटवर्क (5G network) के आने का इंतजार कभी भी खत्म हो सकता है। टेलीकॉम कंपनियां (Telecom companies) 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी (5G spectrum auction) पूरी होने के बाद नेटवर्क को लॉन्च करने की तैयारियों में जुट चुकी हैं। एयरटेल (Airtel) ने इसी महीने अगस्त में 5जी की सेवाएं शुरु करने की घोषणा भी कर दी है। 5जी को लेकर लोगों के मन में सबसे बड़ा सवाल यही है कि 5जी के रिचार्ज प्लान सस्ते होंगे या महंगे। इसी सवाल का जवाब Vi (वोडाफोन आइडिया) की ओर दिया गया है।

टेलीकॉम कंपनी वीआई (Vodafone Idea) के मैनेजिंग डायरेक्टर और CEO रविंद्र टक्कर जानकारी देते हुए बताया कि 4जी के मुकाबले 5जी की सेवाओं के लिए यूजर्स को अधिक पैसे खर्च करने पड़ेंगे। यानी 5जी के रिचार्ज प्लान महंगे होंगे। उन्होंने कहा, कंपनी ने 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी स्पेक्ट्रम खरीदने के लिए अच्छी-खासी रकम खर्च की है, इसी वजह से 5जी इंटरनेट को यूज करने के लिए प्रीमियम प्लान खरीदने होंगे। जाहिर सी बात है प्रीमियम प्लांस की कीमत अधिक होगी। 5जी की सेवाएं केवल प्रीमियम प्राइस पर ही आएगी। प्रीमियम प्लान में डेटा भी ज्यादा मिलेगा और स्पीड भी शानदार होगी।

5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी में कंपनियों ने लुटाए पैसे

सरकार ने 26 जुलाई को 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी शुरु की, जिसमें 4 कंपनियों ने भाग लिया। स्पेक्ट्रम को खरीदने के लिए सभी ने जमकर पैसा खर्च किया। रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने नीलामी में सबसे ज्यादा 88,078 करोड़ रुपये खर्च किए। जबकि भारती एयरटेल (Bharti Airtel), वोडाफोन-आइडिया (Vodafone-Idea) और अडाणी समूह (Adani Group) ने कुल मिलाकर 62,095 करोड़ का स्पेक्ट्रम खरीदा है। 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी में सरकार ने 1,50,173 करोड़ रुपये कमाएं हैं। स्पेक्ट्रम खरीदने के लिए कंपनियों ने जो भी पैसा खर्च किया उसका साफ असर 5जी के रिचार्ज प्लानंस पर दिखेगा। कई रिपोर्ट्स का भी कहना है कि भारत में 4जी के मुकाबले 5जी की सेवाएं ज्यादा महंगी होंगी।

और पढ़ें
Next Story