Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Surya Grahan 2019 Effects: सूर्य ग्रहण के बुरे प्रभाव से बचने के लिए राशि के अनुसार उपाय

Surya Grahan 2019 Effects: सूर्य ग्रहण के बुरे प्रभाव से बचने के लिए राशि के अनुसार उपाय (Surya Grahan Ke Upay) करना अति आवश्यक होता है क्योंकि सूर्य ग्रहण का असर लगभग 15 दिनों तक रहता है और इस साल 26 दिसंबर 2019 को लगने वाले सूर्य ग्रहण का असर अगले साल यानी 10 जनवरी 2020 तक रहेगा। ऐसे में आपको सूर्य ग्रहण के अशुभ परिणाम को कम करने के लिए राशि के अनुसार कुछ उपाय अवश्य करने चाहिए तो चलिए जानते हैं सूर्य ग्रहण के बुरे प्रभाव से बचने के लिए करें राशि के अनुसार उपाय....

Surya Grahan 2019 Effects: सूर्य ग्रहण के बुरे प्रभाव से बचने के लिए राशि के अनुसार उपायSurya Grahan 2019 Effects / सूर्य ग्रहण के बुरे प्रभाव से बचने के लिए राशि के अनुसार उपाय

Surya Grahan 2019 Effects : सूर्य ग्रहण का असर सभी राशियों के जातकों (Solar Eclipse Effects Zodiac Sign) पर पड़ता है। इस साल सूर्य ग्रहण 2019 (Surya Grahan 2019 Date) में 26 दिसंबर 2019 को लग रहा है। जो इस साल का आखिरी सूर्य ग्रहण भी है। इस सूर्य ग्रहण के कुछ राशियों पर सकारात्मक और कुछ राशियों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेंगे। लेकिन यदि आप कुछ उपाय करते हैं तो आपको इस सूर्य ग्रहण के नकारात्मक परिणाम नहीं भुगतने पड़ेंगे तो चलिए जानते हैं इस बार के सूर्य ग्रहण के बुरे प्रभाव से बचने के लिए करें राशि के अनुसार उपाय (Surya Grahan Ke Upay In Hindi)


सूर्य ग्रहण के उपाय मेष राशि के लिए (Surya Grahan Ke Upay Mesh Rashi Ke Liye)

सूर्य ग्रहण का असर आपके भाग्य को प्रभावित करेगा। सूर्य ग्रहण के अशुभ प्रभावों को कम करने के लिए आपको अपने ईष्ट देव के मंत्रों का जाप करना चाहिए और यदि आपको अपने ईष्ट के बारे में नहीं पता है तो ग्रहण काल के समय में आपको हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए।


सूर्य ग्रहण के उपाय वृषभ राशि के लिए (Surya Grahan Ke Upay Vrishabh Rashi Ke Liye)

सूर्य ग्रहण का असर वृषभ राशि के जातकों पर बहुत ही अशुभ पड़ने वाला है। क्योंकि यह ग्रहण आपके अष्टम भाव पर पड़ रहा है। सूर्य ग्रहण के अशुभ फलों से बचने के लिए आपको ग्रहण काल के समय से पहले ही भगवान गणेश को सिंदूर अर्पित करना है और पूरे ग्रहणकाल के दौरान ऊं गं गणपतये नम: मंत्र का जाप करना है।


सूर्य ग्रहण के उपाय मिथुन राशि के लिए (Surya Grahan Ke Upay Mithun Rashi Ke Liye)

मिथुन राशि के जातकों के लिए सूर्य ग्रहण उनके सातवें भाव पर लग रहा है। जो उनके वैवाहिक जीवन पर प्रतिकूल प्रभाव डालेगा। इसलिए इस समय में सूर्य ग्रहण के प्रतिकूल प्रभाव को कम करने के लिए इस राशि के जातकों को ऊं नमो भगवते वासुदेवाय नम: मंत्र का सूतक काल से ही जाप करना चाहिए और ग्रहण खत्म होने तक इस मंत्र का जाप करें।


सूर्य ग्रहण के उपाय कर्क राशि के लिए (Surya Grahan Ke Upay Kark Rashi Ke Liye)

सूर्य ग्रहण का असर आपके छठे भाव पर रहेगा। आपके लिए यह सूर्य ग्रहण कई मामलों में शुभ परिणाम देगा। लेकिन कुछ मामलों में आपको परेशानी आ सकती है। इसलिए इस सूर्य ग्रहण के अशुभ फलों को कम करने के लिए आपको ग्रहण काल में भगवान शिव की आराधन करनी चाहिए और उनके मंत्र ऊं नम: शिवाय का जाप करना चाहिए।


सूर्य ग्रहण के उपाय सिंह राशि के लिए (Surya Grahan Ke Upay Singh Rashi Ke Liye)

सूर्य ग्रहण सिंह राशि के जातकों के लिए पांचवे भाव पर लग रहा है। जो इनके प्रेम संबंध और संतान को कष्ट पहुंचाएगा। इसलिए इस समय में सिंह राशि के जातकों को सूर्य ग्रहण के अशुभ प्रभावों को कम करने के लिए उपाय के रूप में आपको आदित्यहृद्य स्रोत और ऊं आदित्याय नम: मंत्र का जाप ग्रहण काल के दौरान करते रहना चाहिए।


सूर्य ग्रहण के उपाय कन्या राशि के लिए (Surya Grahan Ke Upay Kanya Rashi Ke Liye)

कन्या राशि के जातकों के लिए सूर्य ग्रहण के अशुभ फलों बचने के लिए सूर्य के बीज मंत्र ऊं घृणि सूर्याय नम: का पूरे ग्रहण के दौरान जाप करना चाहिए। यदि आप ऐसा करते हैं तो आपको सूर्य ग्रहण के नकारात्मक फल कम मिलेंगे


सूर्य ग्रहण के उपाय तुला राशि के लिए (Surya Grahan Ke Upay Tula Rashi Ke Liye)

तुला राशि के जातकों के लिए सूर्य ग्रहण तीसरे भाव में पड़ रहा है। जो कुछ हद तक इन्हें सकारात्मक परिणाम दे सकता है। इसलिए इन सकारात्मक प्रभावों को और अधिक बढ़ाने के लिए आपको मां दुर्गा के मंत्र ऊँ दुं दुर्गायै नमः का जाप पूरे ग्रहण काल में करना चाहिए। यदि आप ऐसा करते हैं तो आपके सकारात्मक परिणामों में वृद्धि होगी।


सूर्य ग्रहण के उपाय वृश्चिक राशि के लिए (Surya Grahan Ke Upay Vrishchik Rashi Ke Liye)

वृश्चिक राशि के जातकों के लिए यह सूर्य ग्रहण आपके दूसरे भाव में लगने जा रहा है। जिसके कारण आपको आर्थिक परेशानी के साथ परिवार में विवाद का सामना करना पड़ सकता है। ग्रहण काल के इस अशुभ प्रभाव से बचने के लिए उपाय के रूप में ग्रहण काल के समय सुंदरकांड का पाठ करें।


सूर्य ग्रहण के उपाय धनु राशि के लिए (Surya Grahan Ke Upay Dhanu Rashi Ke Liye)

सूर्य ग्रहण का सबसे ज्यादा असर धनि राशि के जातकों पर ही होने वाला है। क्योंकि यह ग्रहण इन्हीं के लग्न भाव पर पड़ने वाला है। इस समय में ग्रहण काल के दौरान इस राशि के जातकों को उपाय के रूप में ग्रहण काल के दौरान विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करना चाहिए।


सूर्य ग्रहण के उपाय मकर राशि के लिए (Surya Grahan Ke Upay Makar Rashi Ke Liye)

मकर राशि के जातकों के लिए सूर्य ग्रहण बारहवें भाव पर पड़ रहा है। जिसके कारण आपके खर्च अधिक बढ़ सकते हैं और आपको किसी गंभीर बिमारी का सामना भी करना पड़ सकता है। इसलिए इस समय में आपको उपाय के रूप में ग्रहण काल के समय भगवान शिव के मंत्र ऊं नम: शिवाय का जाप करना चाहिए।


सूर्य ग्रहम के उपाय कुंभ राशि के लिए (Surya Grahan Ke Upay Kumbh Rashi Ke Liye)

सूर्य ग्रहण कुंभ राशि के जातकों के शुभ फल ही प्रदान करेगा। इसलिए इन्हें अधिक उपाय करने की आवश्यकता नहीं है। फिर भी यदि यह लोग अपने शभ फलों को और भी अधिक बढ़ाना चाहते हैं उपाय के रूप में ग्रहण काल के बाद पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक अवश्य जलाकर आएं।


सूर्य ग्रहण के उपाय मीन राशि के लिए (Surya Grahan Ke Upay Meen Rashi Ke Liye)

सूर्य ग्रहण का असर मीन राशि वाले जातकों के दसवें भाव पर रहने वाला है। जिसके कारण इनके पिता की सेहत खराब हो सकती है। वहीं दूसरी और इनका अपने पिता के साथ भी संबंध खराब हो सकता है। इसलिए इस राशि के जातकों को उपाय के रूप में सूर्य ग्रहण के बाद किसी निर्धन व्यक्ति या किसी ब्राह्मण को गेहूं का दान करें।

Next Story
Top