logo
Breaking

शनिवार के उपाय : शनि देव को प्रसन्न करने के 10 अचूक उपाय

शनिवार के उपाय अपनाकर शनिदेव को प्रसन्न करने के 10 अचूक उपाय से शनि देव का आशीर्वाद प्राप्त कर सकते हैं। शनि को खुश करने के लिए शनिवार को कई उपाय करते हैं, लेकिन सही उपाय से ही शनिदेव प्रसन्न होते हैं।

शनिवार के उपाय : शनि देव को प्रसन्न करने के 10 अचूक उपाय

शनिवार के उपाय अपनाकर शनिदेव को प्रसन्न करने के 10 अचूक उपाय से शनि देव का आशीर्वाद प्राप्त कर सकते हैं। शनि को खुश करने के लिए शनिवार को कई उपाय करते हैं, लेकिन सही उपाय से ही शनिदेव प्रसन्न होते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जिस व्यक्ति पर शनि की कृपा हो जाती है तो उसके भाग्य बदल जाते हैं। आइये जानते हैं ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनिदेव को प्रसन्न करने के अचूक उपाय

शनिवार के उपाय...

1. भोजन करते वक्त अपने खाने में काला नमक और काली मिर्च का इस्तेमाल जरूर करें। ऐसा करने से शनि प्रसन्न होते हैं।

2. मांस मदिरा का सेवन न करें। यदि शनि की अशुभ दशा चल रही हो तो ऐसे में मांस मदिरा का सेवन करने से बचें, क्योंकि इसका सेवन करना आपके लिए हानिकारक साबित होगा।

3. शनिवार के दिन खिलाएं बंदरो को भुने हुए चने और पाएं शनिदोष से मुक्ति। मीठी रोटी में तेल लगाकर काले कुत्ते को खुलाने से आप पर शनि का अच्छा प्रभाव हो सकता है। जिससे शनिदेव आप पर प्रसन्न भी हो जाएंगे।

4. पूजा तो हर रोज करनी चाहिए लेकिन हर रोज शनि की पूजा करने से व महामृत्युंजय मंत्र 'ॐ नम: शिवाय' का जाप करने से शनि के दुष्प्रभावों से आपको मुक्ति मिल जाएगी। आपका जीवन काफी सुखमय तरीके से बीतेगा।

5. शनि के दुष्प्रभाव को दूर करने के लिए घर के किसी भी कोने में जहां अंधेरा हो वहां पर कटोरी में सरसों का तेल भरके उसमें तांबें का एक सिक्का डालके रख दें। ऐसा करने से शनि का बुरा प्रभाव नही पड़ता है।

6. यदि आप पर शनि की ढैया चल रही हो तो शुक्रवार की रात में 800 ग्राम तिल भिगो दें और शनिवार की सुबह ही उसे पीसकर उसमें गुड़ मिलाके 8 लड्डू बना लें। और उन लड्डुओं को काले घोड़े को खिलाएं। 8 शनिवार तक ऐसा करने से आपको आपको शनि के दोषों से मुक्ति मिल जाएगी।

7. काली गाय की सेवा करने से शनि का दुष्प्रभाव दूर हो जाता है और हर रोज ऐसा करने से सदैव के लिए आप पर शनिदेव की कृपा बनी रहेगी। सबसे पहले काली गाय को पहली रोटी खिलाएं, उन्हें सिंदूर का तिलक लगाएं, सींग में कलावा या रक्षासूत्र बांधने के बाद उन्हें मोतीचूर का लड्डू खिलाएं। और इसके बाद उनका चरण स्पर्श करें।

8. हर शनिवार को पीपल क वृक्ष की पूजा करें व वट या पीपल के पेड़ पर जल या दूध चढ़ाएं। पीपल के वृक्ष के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं। ऐसा करने से शनि प्रसन्न हो जाते हैं और आप पर उनकी कृपा सदैव रहती है।

9. जैसा कि आप जानते हैं कि शनिदेव को काली चीजें पसंद है। इसलिए शनिवार के दिन अपने हाथ के नाप का 29 हाथ का काला लंबा धागा लें और उसे मसलकर अपने गले में पहने। ऐसा करने से आप पर शनि का प्रभाव अच्छा होगा।

10. यदि आप पर शनि की साढ़ेसाती की बुरी दशा चल रही हो तो शनिवार के दिन शाम को पीपल के पेड़ में मीठा जल चढ़ाएं और सरसों के तेल का दीपक जलाएं, शनिदेव की आरती करें, धूप व अगरबत्ती जलाएं और शनिदेव को काला तिल चढ़ाएं। उसके बाद वहीं बैठकर हनुमान, भैरव, शनि चालीसा का पाठ करें। पाठ करने के बाद पीपल के पेड़ की सात बार परिक्रमा कर लें।

नोटः नियमित रूप से ऐसा करने से शनि आप पर हमेशा प्रसन्न रहेंगे और आप शनि के दुष्प्रभाव से बच जाएंगे।

Share it
Top