Top

मीन संक्रांति 2018: जानिए मीन संक्रांति कब, क्या है महापुण्य काल का शुभ मुहूर्त

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Mar 13 2018 11:29AM IST
मीन संक्रांति 2018: जानिए मीन संक्रांति कब, क्या है महापुण्य काल का शुभ मुहूर्त

मीन संक्रांति प्रत्यक्ष देव भगवान सूर्य को समर्पित है। मीन संक्रांति के दिन सूर्य कुंभ राशि से निकलकर मीन राशि में प्रवेश करते हैं। इस कारण इसे मीन संक्रांति कहा जाता है।

इस दिन सूर्य की उपासना अत्यंत लाभकारक माना जाता है। इस माह मीन संक्रांति चैत्र कृष्ण द्वादशी, 14 मार्च 2018 (बुधवार) को पड़ रही है। मीन संक्रांति को दक्षिण भारत में मीन संक्रमण के नाम से जाना जाता है।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मीन संक्रांति पर दान का भी काफी महत्व है। इस दिन दान करने से कुंडली के विपरीत ग्रह भी अनुकूल होते हैं। इसके अलावा इस दिन पवित्र नदियों में स्नान करने से समस्त सांसारिक पाप धुल जाते हैं। अगर पवित्र नदी में स्नान करना संभव ना हो तो सामान्य जल में गंगाजल मिलाकर स्नान कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें: पापमोचनी एकादशी: आज ऐसे करें भगवान विष्णु की पूजा, जीवन भर बनी रहेगी सुख-समृद्धि

मीन संक्रांति के दिन क्या करें 

  • मीन संक्रांति के दिन दान का अत्यधिक महत्व है। इसलिए इस दिन ब्राह्मणों और जरूरतमंदों को अन्न, वस्त्र आदि का दान करना चाहिए।
  • मीन संक्रांति के दिन भूमि का दान करने से सुख-समृद्धि में वृद्धि होती है।
  • मीन संक्रांति के दिन से मलमास का आरंभ होता है। इसलिए मलमास की अवधि में मांगलिक कार्य जैसे नामकरण, विद्या आरंभ, उपनयन संस्कार, विवाह संस्कार, गृह प्रवेश आदि वर्जित माने गए हैं। इसलिए इन शुभ कर्यों को नहीं करना चाहिए।

कब से कब तक है मलमास 

इस बार मलमास चैत्र कृष्ण द्वादशी से प्रारंभ हो रहा है जो अगले एक महीने तक रहेगा। चैत्र कृष्ण द्वादशी यानि 14 मार्च 2018 (बुधवार) की रात 11 बजकर 42 मिनट पर सूर्य मीन राशि में प्रवेश करेंगे।

इस स्थिति में सूर्य 14 अप्रैल को सुबह 8 बजकर 12 मिनट तक रहेंगे। मलमास की इस एक नाह की अवधि में किसी भी प्रकार का शुभ कार्य करना अशुभ होगा। 

इसे भी पढ़ें: मलमास 2018: जानिए मलमास कब से शुरू, क्या है इसका महत्व

मीन संक्रांति के दिन महापुण्य काल 

ज्योतिषी पंडित धनंजय पाण्डेय के अनुसार मीन संक्रांति के दिन महापुण्य काल का शुभ मुहूर्त शाम 04:26 से शाम 18:24 मिनट तक होगा। पुण्य काल की कुल अवधि 1 घंटा 58 मिनट की होगी।

पुण्य काल 

मीन संक्रांति पर पुण्य काल का शुभ मुहूर्त दोपहर 12:30 बजे से शाम 06:24 बजे तक है। मुहूर्त की कुल अवधि 5 घंटा 54 मिनट की है। इस दी संक्रांति काल रात्रि 11 बजकर 56 मिनट तक है।

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
mansoon
mansoon
mansoon

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo